लोंगो तक पहुंचने का फिल्में हैं सशक्त माध्यम

लोंगो तक पहुंचने का फिल्में सशक्त माध्यम है।यह एक ऐसी विधा है ,जो दर्शकों के मन मस्तिष्क पर लंबे समय तक हावी रहता है।दुर्भाग्य से देश के भविष्य बच्चों को केंद्र में रखकर उतना कार्य नहीं हो पाया है जितना होना चाहिए।इस दिशा में दाउदनगर में 4 जनवरी से 6 जनवरी 2020 तक संस्कार विद्या ग्रुप ऑफ स्कूल व धर्मवीर फ़िल्म एन्ड टीवी प्रोडक्शन के बैनर तले आयोजित इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल मील का पत्थर साबित होगा।आईसीएफएफ 2020 को सफल बनाने के लिए दाउदनगर के संस्कार विद्या स्कूल में एक बैठक का आयोजन किया गया,जिसमें हर क्षेत्र के गण्यमान्य लोग शामिल हुए। बैठक में सर्वसम्मति से कोर कमेटी का गठन किया गया।जो फिल्म फेस्टिवल के सभी गतिविधियों को संचालित करेगा।कोर कमिटी के संरक्षक सुरेश कुमार गुप्ता, डॉ. प्रकाशचंद्रा, आनंद प्रकाश,फेस्टिवल चेयरमैन डॉ धर्मवीर भारती को फेस्टिवल एक्सक्यूटिव डायरेक्टर ई विद्या सागर फेस्टिवल डायरेक्टर डॉली,प्रोग्राम हेड विजय चौबे, अंजन सिंह, गोविंदा राज ,मीडिया प्रभारी अभय कुमार, लेखक सह पत्रकार उपेंद्र कश्यप को जिम्मेदारी दी गई है।बैठक में निर्णय लिया गया कि फिल्म फेस्टिवल के परिसर को सुरुचिपूर्ण तरीके से सजाया जाएगा। बच्चों के लिए विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा ,जिसमें अलग-अलग आयु वर्ग के पूरे जिले से बच्चे भाग लेंगे।फिल्म फेस्टिवल के एक दिन पहले 3 जनवरी को दाउदनगर के प्रतिष्ठित नाट्य ग्रुप कला प्रभा संगम द्वारा बच्चों के बीच रंगोली प्रतियोगिता, चित्रकला, नृत्य, मोबाइल वीडियो मैसेजिंग सहित अन्य प्रतियोगिताएं कराई जाएगी।जिसमें अव्वल आने वाले विद्यार्थियों को फेस्टिवल में आगंतुक अतिथियों द्वारा सम्मानित किया जाएगा।बैठक में डॉ. मनोज कुमार,संस्कार विद्या के प्रिंसिपल मोहन सूरज लाल दास, मनोज मुस्कान आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.