बिहार बंद का दिखा असर,कई घंटों तक थमे रहे वाहनों के चक्का।


सीएए एवं एनआरसी के खिलाफ राजद एवं महागठबंधन का बिहार बंद का असर देखा गया।राजद कार्यकर्ता सुबह से ही सड़क पर उतर गए।औरंगाबाद पटना मुख्य पथ को चक्का जाम कर दिया।दाउदनगर में करीब सात घंटे से भी अधिक समय तक बंद असरकारक दिखा।वाहनों के चक्का थमे रहे।सड़कों पर वाहन खड़े रहे।दूकानों पर भी बंदी का असर देखा गया दाउदनगर के भखरुआं मोड़ पर ओबरा विधायक वीरेंद्र कुमार सिंहा,मुखिया कुणाल प्रताप,युवा राजद के प्रदेश सचिव अरुण यादव,राजद प्रखंड अध्यक्ष देवेन्द्र सिंह,राजद नगर अध्यक्ष मुन्ना अजीज,कांग्रेस प्रखंड अध्यक्ष राजेश्वर प्रसाद सिंह, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डॉ संजय कुमार सिंह,यादव महासभा के अध्यक्ष नागेंद्र यादव ,छात्र नेता सुमित यादव छात्र ,युवा राजद प्रखंड अध्यक्ष बसन्त बादल, सुभाष यादव ,भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष टुल्लु रावत, जिनोरिया में छात्र नेता मीडिया प्रभारी सुनील कुमार, धर्मेंद्र यादव, संजीत यादव आदि सैकड़ों नेताओं एवं कार्यकर्ताओं द्वारा सुबह छह बजे से ही औरंगाबाद पटना मुख्य पथ पर भखरुआं मोड़ चौक को जाम कर दिया गया,जिससे उक्त रोड के साथ-साथ दाउदनगर गोह गया रोड पर भी आवागमन पूरी तरह ठप रहा।बंद समर्थकों द्वारा दाउदनगर बाजार को बंद कराया गया।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं गृह मंत्री अमित शाह का पुतला दहन किया गया।भखरुआं मोड़ पर आयोजित सभा को संबोधित करते हुए वक्ताओं ने एनआरसी और सीएए कानून पर कहा कि भारत के हित में नहीं है ।उसे वापस लेना होगा।केंद्र सरकार सिर्फ वोट की राजनीति करने में मशगूल है।थानाध्यक्ष दिनेश कुमार महतो ने भखरुआं मोड़ पर पहुंचकर बंदी समाप्त करने की अपील की,जहां 21 नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने अपनी गिरफ्तारी पुलिस को दी।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.