कला प्रभा संगम ने शुरू किया तीन दिवसीय नाट्य प्रशिक्षण

छोटे-छोटे गांव के बच्चों को कला प्रभा संगम जैसी संस्थायें प्रशिक्षण और कार्यशाला के माध्यम से नाट्य कला सिखा रही है।बच्चों के पास पर्याप्त अवसर है ।कस्बों से प्रतिभाएं निकलकर अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा रही हैं ।उक्त बातें भगवान प्रसाद शिवनाथ प्रसाद बीएड कॉलेज के सचिव एवं औरंगाबाद जिले के प्रमुख समाजसेवी डॉ प्रकाश चंद्रा ने कला प्रभा संगम के तत्वावधान में दाउदनगर के वार्ड संख्या 12 में आयोजित तीन दिवसीय नाट्य प्रशिक्षण के मौके पर कही।
इससे पहले प्रशिक्षण के उद्घाटन समाजसेवी डॉ प्रकाश चंद्रा, विद्या निकेतन ग्रुप ऑफ स्कूल्स के सीईओ आनंद प्रकाश, फिल्म निर्देशक धर्मवीर भारती, मार्कंडेय कुमार पांडेय एवं समाजसेवी चिंटू मिश्रा ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया ।अपने संबोधन में समाजसेवी डॉ प्रकाश चंद्रा ने अभिभावकों से अपील करते हुए कहा कि बच्चों को अपनी मर्जी से कार्य व क्षेत्र का चुनाव करने दें।जो बच्चा जिस क्षेत्र में जाना चाहते हैं,उन्हें अपना क्षेत्र चुनने दें।पढाई के अलावे गीत- संगीत, नृत्य ,तैराकी, खेल-कूद, पढ़ाई जैसी एक्टिविटी बच्चों के व्यक्तित्व को निखारती है ।बिहार के चंपारण एवं गोपालगंज से प्रकाश झा, पंकज त्रिपाठी मनोज बाजपेयी जैसे उम्दा कलाकार निकलकर फिल्म इंडस्ट्री में अपनी पहचान बनाये हुए हैं ।कला के क्षेत्र में अपार संभावनायें हैं ।पहले मार्गदर्शन के अभाव में प्रतिभा वंचित रह जाती थी। अब मंजे हुए कलाकारों द्वारा प्रशिक्षण दिया जा रहा है। कला प्रभा संगम के अध्यक्ष अंजन सिंह ने कार्यक्रम का संचालन किया।सचिव गोविंदा राज, उपाध्यक्ष मनोज मुस्कान समेत अन्य सदस्यों ने सभी का स्वागत किया। इस मौके पर विजय चौबे, चंदन चौरसिया ,अशोक आर्यन, देव शर्मा आदि मौजूद रहे ।इस मौके पर गीत संगीत की भी प्रस्तुति दी गई।आयोजकों द्वारा बताया गया कि तीन दिवसीय प्रशिक्षण के दौरान नृत्य कला की बारीकियों से को सिखाया जाएगा ।पूर्व राष्ट्रपति स्व अब्दुल कलाम द्वारा सम्मानित हो चुके कलाकार मार्कंडेय कुमार पांडेय ने अपने गीत के माध्यम से धन्यवाद ज्ञापन किया ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.