आधुनिक दौर में शिक्षकों के अस्तित्व पर खतरा।

कृष्णा ग्रुप ऑफ इंस्टिट्यूट द्वारा रविवार को स्थानीय दुर्गा क्लब में शिक्षक सम्मान समारोह का आयोजन किया गया।समारोह का उद्घाटन राष्ट्रीय उच्य विद्यालय के पूर्व प्रधानाचार्य सुरेंद्र प्रसाद उर्फ उमा सर , महेश्वर नाथ ओझा,दाउदनगर कॉलेज के के पूर्व प्राचार्य डाँ कामेश्वर शर्मा,शिक्षक भगवान प्रसाद,कृष्णा कोचिंग इंस्टीट्यूट के निदेशक मदन कुमार ,दिव्य प्रकाश एवं आदित्य प्रकाश ने संयुक्त रुप से दीप प्रज्वलित कर किया ।संस्था के छात्र-छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए गए। कार्यक्रम की शुरुआत सरस्वती वंदना से की गई ।इसके बाद गुरु वंदना ,गुरुजनों की आरती, स्वागत गान ,स्वागत डांस ,ग्रुप डांस, पुरस्कार वितरण समेत अन्य कार्यक्रम आयोजित किए गए।उद्घाटन के बाद दाउदनगर कॉलेज के पूर्व प्राचार्य ने कहा कि आधुनिक दौर में शिक्षकों के अस्तित्व पर खतरा मंडरा रहा है।शिक्षक अपने अनुशासन को बनाएं रखें एवं बच्चो के मानसिकता को पढ़कर पठन पाठन कराएं।सुरेंद्र प्रसाद ने संस्था के प्रारंभ दिनों के जुड़े यादों को साझा किया।उन्होंने संस्था के विकास पर सीईओ दिव्य प्रकाश एवं प्रशासक आदित्य प्रकाश बधाई देते हुए कहा कि देश के चहुमुखी विकास की जिम्मेवारी युवा के कंधों पर है।मदन कुमार ने कहा कि इस संस्था ने शिक्षा का ग्राफ कभी नहीं गिरने दिया ।रैंकर्स पॉइंट के सीईओ इं. दिव्य प्रकाश ने कहा कि नए तकनीक पर आधारित शिक्षा उपलब्ध कराने का प्रयास किया जा रहा है।कई शिक्षकों को सम्मानित किया गया। प्रबुद्ध भारती के मास्टर भोलू के कुशल निर्देशन में छात्र-छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किया जिसके लिए प्रबुद्ध भारती को भी सम्मानित किया गया। युवा नेता अरुण यादव को भी सम्मानित किया गया।उन्होंने अपने इस संस्था में पढ़ने के दौरान का अनुभव साझा किया।कार्यक्रम का संचालन सलोनी कुमारी,रोशनी,आदित्य प्रकाश एवं दिव्य प्रकाश ने किया।उन्होंने अपने वाक पटुता से पूरे महफ़िल के शमा को बांधे रखा।सांस्कृतिक कार्यक्रम में बच्चों के प्रस्तुति देख सभी मंत्रमुग्ध हो गए।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.