सड़क पर ही गिरा दिया जाता है बालू।

शहर में कई जगह मकान बनाने हेतु आवश्यक बालू गिट्टी सड़क पर रख दी जा रही है जिससे लोगो को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है।सड़क पर गिट्टी बालू ,छड़ रखकर सड़क सुरक्षा कार्यक्रम की धज्जियां उड़ाई जा रही है।पूछे जाने पर एक ही बात कहते हैं कि गली के अंदर मकान है ट्रेक्टर कैसे अंदर जाएगा इसलिए मजबूरी में सड़क पर बालू गिराना पड़ रहा है थोड़ी देर में हट जाएगा।जब तक लेबर बालू अंदर गली में ले जाते हैं तब तक सड़क का आवागमन अवरुद्ध रहता है।हद तो तब हो जाती है जब कुछ लोग कई दिनों तक सड़क के किनारे बालू ,गिट्टी छोड़े रहते हैं।सड़क पर बालू पसरा रहता है।
कुछ लोग मकान बनवाने के नाम पर महीनों से गिट्टी व बालू सड़क की पटरी पर गिराकर सड़क के किनारे छोड़ देते हैं। जिससे आए दिन जाम की समस्या खड़ी हो जाती है। वहीं दुर्घटना की आशंका बनी रहती है।यही हाल दाउदनगर बारुण रोड में भी है ।दाउदनगर नासरीगंज पुल बन जाने से आवागमन बढ़ गई है।बारुण रोड़ में जहां तहां बालू पसरा मिल जाएगा।वाहनों के लगातार आवागमन होते रहते हैं। वाहनों के लगातार आवागमन के कारण धूल का नियुक्त बालू सड़क पर एवं सड़क किनारे जमा हो गए हैं इससे जहां लोगों के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल असर पड़ रहा है, वहीं दुर्घटना होने की आशंका भी बनी रहती है।किला रोड में जहां तहां सड़क पर ही बालू गिरा मिल जाता है।पूछे जाने पर कहते हैं जल्द हटा लिया जाएगा।मकान अंदर है इसलिए मजबूरी में सड़क के किनारे ही बालू उतराना पड़ता है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.