प्रशासन की मौजूदगी में खोदा गया गड्ढा


गुरुवार को दाउदनगर प्रखंड के मखरा गांव में प्रशासन और कुछ किसानों के बीच हल्का-फुल्का विवाद का मामला सामने आया है।प्राप्त जानकारी के अनुसार पावर ग्रिड द्वारा चार लाख पावर का हाई टेंशन तार ले जाने के लिए टावर का निर्माण किया जा रहा है, जो किसानों के खेतों से होकर गुजर रहा है। इससे मखरा गांव निवासी राकेश कुमार, मनोज शर्मा एवं जितेंद्र शर्मा का खेत प्रभावित हो रहा है।बीडीओ जफर इमाम के साथ काफी संख्या में पुलिस बल गुरुवार को खेत में पहुंची और टावर लगाने के लिए गड्ढा खुदवाने का कार्य शुरू कर दिया गया, जिसका प्रभावित किसानों ने विरोध किया। किसान राकेश कुमार ने प्रशासन पर जबरदस्ती करने का आरोप लगाते हुए कहा कि यदि पावर ग्रिड को जमीन की आवश्यकता थी तो प्रशासन को पहले सूचना देनी चाहिये थी। उनकी खेत में गेहूं की फसल लगी हुई है, बगैर किसी नोटिस या किसी सूचना के प्रशासनिक दल बल के साथ पहुंचकर उनके खेत में गड्ढा खोल दिया गया है। उन्होंने कहा कि करीब तीन बिगहा जमीन में लगी गेहूं की लहलहाती फसल बर्बाद हो गई है।इनका कहना था कि करीब डेढ़ साल पहले इनकी एक और जमीन में इसी तरह से टावर लगाया गया था और उनकी करीब दो बिगहा जमीन की फसल बर्बाद हो गई थी, जिसका आज तक कोई मुआवजा सरकार द्वारा नहीं दिया गया है, जबकि नियमानुसार मूल्य का 85% मुआवजा मिलना चाहिये था।प्रखंड विकास पदाधिकारी जफर इमाम ने किसानों को समझा बुझाकर शांत कराया.बीडीओ ने कहा कि प्रावधान के अनुसार जो मापदंड होगा उसके मुआवजा दिया जाएगा।फिलहाल गड्ढा खुदवाने का कार्य किया जा रहा है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.