युवा रत्न मिलने के बाद लगी हुई बधाई देने का तांता


दिल्ली में युवारत्न का अवार्ड प्राप्त कर दाउदनगर आने के बाद संस्कार विद्या के सीईओ आनंद प्रकाश को बधाई देने का तांता लगा हुआ है।समाजसेवी डाँ प्रकाश चन्द्रा ने बधाई देते हुए कहा कि आनन्द खुद प्रतिभा के धनी हैं।इन्होंने शहर का नाम रौशन किया है।विदित हो कि 13 जनवरी को दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में राजनीति के पाठशाला समाजिक संस्थान के द्वारा यह सम्मान दिया गया।राजनीति की पाठशाला एक ऐसा सरकारी संस्थान है जो विभिन्न विधाओं व विभिन्न प्रतिभावान क्षेत्रो से युवाओं को प्रशिक्षण देने का काम करती है।बिहार से तीन युवाओं का चयन इस सम्मान के लिए किया गया था।जिसमें आनन्द प्रकाश भी शामिल थे। उन्हें यह सम्मान वरिष्ठ पत्रकार डाँ वेद प्रताप वैदिक,इंडिया एशिया पेसिफिक रुचि भारद्वाज, सोशल वर्कर डाँ लक्ष्मी शर्मा,फ़िल्म एक्टर्स रचना भीम रजका,सुप्रीम कोर्ट बार काउंसिल के ज्वाइंट सेकेट्री अधिवक्ता डॉक्टर फारूक खान,अधिवक्ता संजीव सहगल, बार एसोसिएशन सुप्रीम कोर्ट के फार्मर प्रेजिडेंट राकेश कुमार खन्ना,फ़िल्म निदेशक उपासना अरोरा समेत अन्य अतिथियों के समक्ष दिया गया।
समाजिक कार्य मे रहते हैं आगे:
इनका चयन शिक्षा के क्षेत्र में विभिन्न सामाजिक गतिविधियों के साथ-साथ चहुंमुखी विकास, सामाजिक योगदान ,बुजुर्गों का सम्मान ,बहादुरों का सम्मान आदि के लिए किया गया है। आनंद प्रकाश निर्धन छात्रों को निशुल्क शिक्षा भी देते हैं।कई गरीब बच्चों को ये गोद भी ले चुके हैं। ये कला क्षेत्र में आगे बढ़ने वाले कलाकारों को प्रोत्साहन देते रहते हैं।उन्होंने एजुकेशन ऑफ सोशल रिस्पांसिबिलिटी के तहत समाज को जागृत करने का काम किया है।काफी कम दिनों में शैक्षणिक वातावरण के साथ सामाजिक गतिविधियों में भूमिका निभाते हुए अपनी अलग पहचान बनाई है।आज इनकी पहचान जिले में हीं नही बल्कि बिहार में एक अच्छे शिक्षाविद के रूप में कई जाती है।
कर रहे हैं अंतरराष्ट्रीय बाल फिल्म महोत्सव का आयोजन:

विद्या निकेतन ग्रुप ऑफ स्कूल्स के सीएमडी सुरेश कुमार गुप्ता ने कहा कि आनंद प्रकाश के अनुभव तले ही अंतरराष्ट्रीय बाल फिल्म महोत्सव का आयोजन सात से नौ फरवरी तक किया जा रहा है।वे मैनेजमेंट की डिग्री हासिल कर अपने छोटे भाइयों ई.विद्यासागर एवं ई.विनय प्रकाश के साथ मिलकर आधुनिकतम सुविधाओं से संपन्न सीएसआर के तहत समाज के उत्कृष्ट कलाकृति को तैयार करने में लगे हुए हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.