तीन दिनों से ई-रिक्शा का परिचालन है ठप, हड़ताल पर हैं ई रिक्शा चालक


तीन दिनों से ई-रिक्शा शहर में बाजार की सड़कों पर कहीं भी दिखाई नही पड़ रहा है।सभी ई-रिक्शा नगर भवन के परिसर के बाहर लगे हुए दिख रहे हैं।ई रिक्शा चालक प्रशासन पर परेशान करने का आरोप लगा रहे हैं ।इन लोगों का कहना है कि दाउदनगर शहर में करीब डेढ़ सौ की संख्या में ई-रिक्शा का परिचालन होता है।ई रिक्शा के आ जाने से महिला एवं बुजुर्ग यात्रियों को काफी सुविधा हुई है।अनुमंडल प्रशासन द्वारा नहर पुल के पास डग के पास ऑटो स्टैंड के लिए जो जगह चिन्हित की गई है, वह काफी छोटा जगह है ,जहां सभी ई-रिक्शा एवं ऑटो का लग पाना असंभव- सा दिखता है।इनका कहना है कि इन लोगों को बस स्टैंड तक जाने की अनुमति दी जाए औरंगाबाद रोड में जाने वाले ई रिक्शा के लिए औरंगाबाद की और आवागमन करने वाले बस वाले स्थान तक, गया रोड में गया, हसपुरा, पचरुखिया, गोह तक आवागमन करने वाले बस तक तथा पटना रोड में अरवल, पटना तक आवागमन करने वाले बसों तक आवागमन करने का परमिशन दिया जाए।इनका कहना है कि बाजार से जो यात्री अपने गंतव्य स्थानों के लिए रवाना होते हैं, वे ऑटो या ई-रिक्शा से बाजार रोड में निर्धारित ऑटो स्टैंड पर ही पहुंच पाते हैं और वहां से उन्हें अपने गंतव्य स्थान तक बस पर सवार होने के लिए या तो कोई दूसरे वाहन का इंतजार करना पड़ता है या फिर पैदल जाना पड़ता है। यदि ई रिक्शा बसों तक पहुंचेंगे तो यात्रियों को भी आवागमन करने में असुविधा नहीं होगी। ई रिक्शा चालकों का आरोप है कि नहर पुल के पास सब्जी मंडी के आगे बढ़ने पर पुलिस द्वारा उन लोगों को परेशान किया जा रहा है। ई रिक्शा चालक राजेंद्र प्रसाद का कहना है कि प्रशासन द्वारा नहर पुल के पास से लेकर भखरुआं मोड़ इलाके में बस ठहराव वाले स्थान तक चिंहित कर नो पार्किंग जोन घोषित कर दिया जाए, जहां पर ई-रिक्शा नहीं रोकेंगे, लेकिन उन्हें बसों तक जाने दिया जाए। इन्होंने कहा कि वे लोग अनुमंडल पदाधिकारी से मिलकर ज्ञापन सौंपने पर विचार कर रहे हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.