मृतक छात्र के परिजनों से मिल कर दिया सांत्वना


जिनोरिया स्थित सरस्वती विद्या मंदिर का छात्र नीतीश कुमार की मौत राजगीर में पहाड़ से गिरने के कारण हो गई।स्कूल द्वारा शैक्षणिक परिभ्रमण दल राजगीर ले जाया गया था।प्रखंड के धेवही निवासी 15 वर्षीय छात्र नीतीश कुमार के निधन पर यादव महासभा के सांगठनिक पदाधिकारियों ने दिवंगत छात्र के घर जाकर उसके पिता एवं अन्य परिजनों से मुलाकात की।जानकारी देते हुए यादव महासभा दाउदनगर के प्रवक्ता ब्रजकिशोर मंडल ने बताया कि सिद्धेश्वर यादव का पुत्र नीतीश कुमार जिनोरिया गांव में संचालित सरस्वती विद्या मंदिर सह कोचिंग सेंटर का छात्र था।13 अक्टूबर को कोचिंग द्वारा शैक्षणिक परिभ्रमण दल राजगीर ले जाया गया था।उसी दौरान पहाड़ से गिरने के कारण नीतीश की मौत हो गई यादव महासभा के सांगठनिक पदाधिकारियों ने कहा कि यदि कोचिंग प्रबंधन तत्परता दिखाती तो नीतीश की जान बच भी सकती थी, लेकिन विद्यालय प्रबंधन द्वारा गया में उसे भर्ती नहीं कराया गया और दाउदनगर लाकर एक निजी हॉस्पीटल में हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जहां चिकित्सकों ने पटना के एक बड़े अस्पताल में रेफर कर दिया ,जहां उसकी मौत हो गई।मृतक के पिता द्वारा विद्यालय प्रबंधन के खिलाफ अभी तक कोई कानूनी कार्रवाई नहीं की गई है।उनका कहना है कि समाज द्वारा जो निर्णय लिया जाएगा,वे उसका पालन करेंगे।यादव महासभा के सांगठनिक पदाधिकारियों ने पीड़ित परिवार को सांत्वना प्रदान करते हुए कहा कि हमेशा मदद के लिए आगे रहेंगे इस मौके पर यादव महासभा के अध्यक्ष नागेंद्र यादव, सचिव रामप्रवेश यादव ,उपाध्यक्ष अशोक यादव ,प्रवक्ता ब्रज किशोर मंडल, युवा राजद के प्रदेश सचिव अरुण यादव, करमा पंचायत मुखिया प्रतिनिधि धर्मेंद्र कुमार ,पूर्व पैक्स अध्यक्ष जगन्नाथ यादव, छात्र राजद के प्रखंड अध्यक्ष संतोष कुमार, जितेंद्र यादव, ज्ञानू यादव आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.