डॉ बीके प्रसाद के निधन से व्यक्तिगत रूप से मर्माहत

भगवान प्रसाद शिवनाथ प्रसाद बीएड कॉलेज के सचिव डॉ प्रकाश चंद्रा के आवास पर एक शोक सभा का आयोजन कर डॉ बीके प्रसाद के निधन पर शोक सभा का आयोजन किया गया।
दो मिनट का मौन रखकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की गई।शोक व्यक्त करते हुए डॉ प्रकाश चंद्रा ने कहा कि डॉ बीके प्रसाद का व्यक्तित्व प्रेरणादायक है ।उनके निधन से वे व्यक्तिगत रूप से मर्माहत हैं। बचपन से ही पारिवारिक सदस्य के रूप में जुड़े रहे।पूर्व से ही दाउदनगर में अच्छे चिकित्सकों की मौजूदगी रही है ,जिनमें डॉ.मिहिर कुमार सिंह, डॉ.रामपरीखा सिंह,डा. श्याम देव सिंह ,डॉ. शमशुल हक ,डा.पुष्टि इनके समकालीन चिकित्सक हुआ करते थे इनका कुछ दिनों तक अनुपस्थित होना शहर को खटकता था ।इनमें सबसे बड़ी खासियत यह थी कि गंभीर मरीज को समुचित इलाज के लिए सही सलाह देते हुए सही जगह रेफर कर देते थे।शहरवासियों से उनका आत्मीय लगाव रहा है. चिकित्सा जगत को प्रतिष्ठा इन जैसे चिकित्सकों से ही मिलती है।दाउदनगर अनुमंडल क्षेत्र के लोगों को इनकी कमी खलती रहेगी। इस मौके पर पूर्व जिप उपाध्यक्ष संजय सिंह सोम, पूर्व मुखिया राधेश्याम सिंह, सुरेंद्र सेठ ,चिंटू मिश्रा,सनोज यादव, रवि कुमार, लकी शर्मा, पल्लवी कुमारी आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.