शव पहुंचते ही माहौल हुआ गमगीन


बुधवार को पुरानी शहर वार्ड संख्या तीन स्थित डफाली टोला मुहल्ला का पूरा माहौल उस वक्त गमगीन हो गया जब झारखंड के जामताड़ा में मंगलवार की दोपहर हुई सड़क दुर्घटना में मृतक 32 वर्षीय महिला रेशमा साहिन का शव पहुंचा। सभी परिजनों का रोते रोते बुरा हाल था।
जामताड़ा से पोस्टमार्टम होने के बाद परिजनों द्वारा उनका शव बुधवार को दाउदनगर लाया गया ।इस दुर्घटना में रेशमा के पति मो. इस्माइल भी जख्मी हो गए हैं, जबकि मो. इस्माइल के दोस्त धुरंधर सिंह की मौत हो गई,जो रोहतास जिले के गोड़ारी के निवासी बताए जाते हैं।
जैसे ही इस घटना की सूचना मुहल्ले वासियों को मिली तो पूरे मुहल्ले में शोक की लहर दौड़ गई।जिसने भी सुना वे मृतका के घर की ओर पहुंचने लगे।प्राप्त जानकारी के अनुसार ,मंगलवार की सुबह मो. इस्माइल अपनी पत्नी रेशमा साहिन के साथ अपनी आल्टो गाड़ी से दाउदनगर से दुमका के लिए रवाना हुए थे और औरंगाबाद में उसी वाहन पर उनके साथी धुरंधर सिंह सवार हुए।मोहम्मद इस्माइल एवं धुरंधर सिंह यूरो स्टूडियो एसएल इंडिया कंपनी में कार्यरत थे। यह कंपनी दुमका से हंसडीहा तक बनने वाली स्टेट हाईवे 17 में क्वांटिटी सर्वेयर की देखरेख कर रही है।मो. इस्माइल की पत्नी रेशमा साहिन का मायका रांची के कडरू में है। जिस अल्टो कार को पर ये लोग सवार थे,उसे मो. इस्माइल चला रहे थे ।इसी क्रम में झारखंड के जामताड़ा थाना क्षेत्र के पसोई और मोहरा के बीच में गोविंदपुर साहिबगंज हाईवे पर मोहरा के समीप अल्टो कार चला रहे मो. इस्माइल को झपकी लग गई, जिससे अल्टो कार अनियंत्रित होकर पुल की रेलिंग से टकरा गई। वाहन का अगला हिस्सा पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया जिसके कारण पिछली सीट पर बैठी रेशमा साहिन उछलकर कांच तोड़ते हुए वाहन के बाहर जा गिरीं और अगले सीट पर बैठे धुरंधर सिंह वाहन में फस गए।दोनों की मौत घटनास्थल पर ही हो गई।जबकि मो.इस्माइल जख्मी हो गए ।घटना की सूचना जामताड़ा पुलिस द्वारा जैसे ही मो. इस्माइल के परिजनों को दी गई तो उनके परिजन एवं शुभचिंतक दाउदनगर से घटनास्थल के लिए रवाना हो गए. रात्रि में ही जामताड़ा में शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद बुधवार को मृतका के शव को दाउदनगर स्थित उनके आवास पर लाया गया।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.