ट्रैक्टर से कुचलकर महिला की मौत,मृतका का पुत्र हुआ जख्मी।


बुधवार के अपराहन दाउदनगर के भखरुआं बाजार रोड में ट्रैक्टर से कुचलकर एक 40 वर्षीया महिला की मौत हो गई वहीं मृतका का 15 वर्षीय पुत्र घायल हो गया।मृतका की पहचान ओबरा प्रखंड के खुदवां थाना क्षेत्र स्थित गैनी गांव निवासी इंदु देवी के रूप में गई है। जख्मी का नाम धीरज कुमार है। प्राप्त जानकारी के अनुसार, घायल किशोर अपनी मां को बाइक पर बैठाकर दाउदनगर बाजार की ओर से भखरुआं की ओर जा रहा था, उसी दौरान विपरीत दिशा से आ रहे एक ट्रैक्टर की चपेट में आ गया और घटनास्थल पर ही महिला इंदु देवी की मौत हो गई ,जबकि महिला का पुत्र घायल हो गया। स्थानीय ग्रामीणों एवं दुकानदारों ने घायल किशोर को उठाकर सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया।ट्रैक्टर चालक ट्रैक्टर छोड़कर भागने में सफल रहा ।पुलिस ने ट्रैक्टर को जप्त कर लिया है।इधर ,घटना के बाद मुआवजे की मांग को लेकर ग्रामीणों द्वारा भखरुआं मोड़ पर सड़क को जाम कर दिया गया।
दो घण्टे से ज्यादा समय तक रहा सड़क जाम:
करीब दो घंटे से अधिक समय तक औरंगाबाद पटना मुख्य पथ एवं स्टेट हाईवे के दाउदनगर गोह गया मुख्य पथ तथा दाउदनगर बाजार रोड में आवागमन बाधित रहा ।जाम में छोटे बड़े वाहन फंसे रहे।आक्रोशित ग्रामीण मृतक के आश्रितों को पर्याप्त मुआवजा देने की मांग कर रहे थे।जाम की सूचना एसडीओ अनीस अख्तर ,अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी राजकुमार तिवारी,बीडीओ जफर इमाम थानाध्यक्ष अभय कुमार सिंह,सब इंस्पेक्टर शेखर सौरभ,भगवान प्रसाद सिंह, दाउदनगर थाना के सहायक अवर निरीक्षक किरण कुमार सिंह के नेतृत्व में पुलिस पहुंच गई और समझा बुझाकर सड़क को जाम को समाप्त कराया गया। इस दौरान पुलिस को हल्का फुल्का आक्रोश का सामना भी करना पड़ा।ग्रामीण तत्काल मुआवजा देने की मांग को लेकर अड़े हुए थे।काफी समझाने बुझाने के बाद ग्रामीणों का आक्रोश शांत कराया गया और सड़क जाम को समाप्त कराया गया।अधिकारियों ने प्रावधान के अनुसार नियमानुसार मुआवजा देने का आश्वासन देकर सड़क जाम को समाप्त कराया। सड़क जाम समाप्त होने के बाद पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल औरंगाबाद भेज दिया है।

मृतका के पति मजदूरी करते हैं मजदूरी:
मृतका के पति सुनील पटेल अमृतसर पंजाब में किसी फेक्ट्री में काम करते हैं। मृतका अपने इकलौते पुत्र के साथ रहती थी। उनके परिचित लोगो ने बताया कि बुधवार को अपने पुत्र के साथ दाउदनगर बाज़ार करने आई थी ये कौन जानता था कि वह अब कभी भी लौट कर नही आएगी। बताया गया कि घायल धीरज को इसी वर्ष मैट्रिक का परीक्षा देना था।

लगी रहती है जाम:
बाज़ार रोड में अक्सर जाम का नाज़ारा रहता है अगल बगल कोई भी फुटपाथ नही है इसी मार्ग से वाहन आते जाते रहते हैं। अक्सर यंहा दुर्घटना की संभावना बनी रहती है। इसका समाधान ढूढने की आवश्कता है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.