आनन-फानन में कार्य कराने का लगाया आरोप,सुधार की मांग


दाउदनगर नासरीगंज के बीच सोन पुल का निर्माण कार्य अंतिम पायदान पर है ।जिसे 31 जनवरी तक पूरा कर देना है।तेज़ गति से अंतिम रूप दिया जा रहा है।
पहले चरण के कार्य लगभग समाप्ति के कगार पर है।इसी क्रम में रोहतास जिले के नासरीगंज की ओर एप्रोच रोड एवं अतमी कैनाल के पास पुल का निर्माण कार्य चल रहा है।अभी भरावट का कार्य चल रहा है,जिसकी गुणवत्ता पर भी सवाल उठाये जाने लगे हैं।मुखिया संघ दाउदनगर के अध्यक्ष एवं अंकोढ़ा पंचायत के मुखिया कुणाल प्रताप ने कहा है कि पुल निर्माण कंपनी द्वारा सड़क निर्माण में कथित तौर पर लापरवाही बरती जा रही है।नासरीगंज की ओर अतमी कैनाल के पास इस लापरवाही को देखा जा सकता है ,जहां कंपनी के द्वारा आर ई पैनल का न ही एरिक्शन किया जा रहा है, न ही आर ई पैनल बेल्ट को सही तरीके से लगाया जा रहा है और न ही बालू की भराई के बाद उसे दबाया जा रहा है। ऐसा लगता है कि आनन-फानन में किसी तरीके से सड़क का निर्माण करा कर जल्द से जल्द उद्घाटन कराने की कवायद लगाई जा रही है की जा रही है ,जिससे सड़क बनने के बाद भी क्षतिग्रस्त होने की संभावना बनी रहेगी। एक निर्धारित अवधि तक पुल निर्माण कंपनी तो देखरेख कर सकती है, लेकिन उसके बाद यदि किसी प्रकार सड़क क्षतिग्रस्त हो गया तो ऐसी स्थिति में क्या किया जा सकेगा। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि ऐसा लगता है कि लोकसभा चुनाव के आचार संहिता लागू होने के पूर्व उद्घाटन करा लेने के लिए ही आनन-फानन में तेज गति से काम कराया जा रहा है।
क्या कहते हैं एचसीसी के अधिकारी:
इस संबंध में पूछे जाने पर सोन पुल निर्माण करा रही कंपनी एचसीसी के प्रशासनिक प्रबंधक आशुतोष कुमार पांडेय ने कहा कि सारा कार्य बिहार सरकार के तकनीकी अधिकारियों की देखरेख में कराया जा रहा है। पूरी तरह गुणवत्ता के साथ सुरक्षात्मक मापदंड का पालन करते हुए कार्य कराये जा रहे हैं ।उन्होनें कहा कि हो सकता है कि टेक्निकल कार्य होने के कारण समझ में नहीं आया हो।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.