निर्माणाधीन सोन पुल पर वाहनों का प्रवेश पूरी तरह वर्जित, वाहनों के आवागमन से दुर्घटनाओं की हो रही आशंका


दाउदनगर नासरीगंज के बीच निर्माणाधीन सोन पुल एवं एप्रोच रोड पर दोपहिया एवं चार पहिया वाहनों के परिचालन अभी उर्द्घाटन से पहले नही होगा ।परिचालन पर तत्काल रोक लगा दी गई है। बिहार पुल निर्माण निगम के वरीय परियोजना अभियंता श्रीकांत शर्मा ,एचसीसी कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर अशोक कुमार उपाध्याय एवं प्रशासनिक प्रबंधक आशुतोष कुमार पांडेय ने एचसीसी कार्यालय कक्ष में आयोजित एक संयुक्त प्रेस वार्ता में जानकारी देते हुए बताया कि वाहनों का परिचालन आम लोगों द्वारा बेरोकटोक किए जाने से लगातार दुर्घटना जैसी घटनाएं घट रही हैं। जिसे देखते हुए सोन पुल का निर्माण करा रही कंपनी एचसीसी ने वाहनों के आवागमन पर प्रतिबंध लगा दिया है ।इन अधिकारियों ने कहा कि सोन पुल का निर्माण कार्य अंतिम चरण में चल रहा है।कुछ कार्य बाकी हैं। दाउदनगर बारुण पथ से नासरीगंज तक सोन पुल एवं एप्रोच रोड का निर्माण कार्य 31 जनवरी तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है ,ताकि फरवरी महीने में इसका उद्घाटन कराया जा सके। लेकिन दोपहिया एवं चार पहिया वाहन चालकों द्वारा बेरोकटोक वाहनों का आवागमन किया जा रहा है, जिसके कारण प्रायः आए दिन दुर्घटनाएं घट रहीं हैं और वाहन सवार चोटिल हो रहे हैं। साथ ही कार्य में भी व्यवधान उत्पन्न हो रहा है।मना करने पर वाहन चालक एचसीसी कर्मियों से उलझ जा रहे हैं। सबसे बड़ी बात तो यह है कि निर्माण सामग्री को लेकर कंपनी के वाहन पुल पर खड़ा रहते हैं ।भारी वाहन पुल पर खड़े रहते हैं और उसी दौरान निजी वाहन चालक अपना वाहन लेकर पहुंच जाते हैं, जिससे दुर्घटना की संभावना तो बनी ही रहती है, साथ ही कार्य में भी व्यवधान होता है।इन अधिकारियों ने कहा कि एवं पुल एवं एप्रोच रोड का निर्माण कार्य बिल्कुल अंतिम चरण में पहुंचा हुआ है। कार्य को फाइनल टच दिया जा रहा है, ताकि एक 31 जनवरी तक हर हाल में इसका निर्माण कार्य पूरा करा दिया जाए।इन लोगों ने आम जनता से सहयोग करने की अपील करते हुए कहा कि पुल का उद्घाटन होने तक पुल एवं रोड से वाहनों का परिचालन नहीं करें। यह सुरक्षा के दृष्टिकोण से अति आवश्यक है।
स्कूल संचालको को भी लिखा जा रहा है पत्र :
स्कूल संचालकों द्वारा भी स्कूल बसों का परिचालन किया जा रहा है, जो सुरक्षात्मक दृष्टिकोण से सही नहीं है ।अधिकारियों ने कहा कि दाउदनगर पुलिस द्वारा हर तरह का सहयोग किया जा रहा है, लेकिन आम लोगों को भी सजग होकर कार्य को पूरा कराने में सहयोग करना चाहिए। प्रोजेक्ट मैनेजर ने कहा कि जिला पदाधिकारी को पत्र लिखकर इस समस्या को अवगत कराने जा रहे हैं।साथ ही निजी स्कूल संचालकों को भी पत्र लिखा जा रहा है कि सुरक्षात्मक दृष्टिकोण से अभी निर्माणाधीन पुल व अप्रोच रोड से वाहनों का परिचालन न कराएं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.