सात पंचायत हुए खुले में शौच से मुक्त


शुक्रवार को प्रखंड कार्यालय परिसर में एक साथ सात पंचायत ओडीएफ घोषित किए गए।सात पंचायत को ओडीएफ (खुले में शौच से मुक्त घोषित) करने के लिए प्रखंड कार्यालय परिसर के मैदान पर एक भव्य समारोह का आयोजन किया गया।समारोह का उर्द्घाटन एसडिओ अनीस अख्तर,अनुमंडल लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी सह वरीय पदाधिकारी तेज नारायण राय,प्रखंड विकास पदाधिकारी जफर इमाम एवंउप प्रमुख नंद शर्मा,पूर्व पंचयात सचिव कौशल शर्मा एवं सातों पँचायत के मुखिया ने संयुक्त रूप से फीता काट कर एवं दीप प्रज्वलित कर किया। समारोह में मनार ,चौरी,अंछा,कनाप,संसा,अंकोढ़ा, महावर पंचायत को ओडीएफ घोषित किया गया।सभी सातो पंचायतों के मुखिया ने बारी बारी से अपने पंचायत को ओडीएफ की घोषणा की।ग्राम पंचायत चौरी के मुखिया अनिल कुमार चन्द्रवँशी,
अखोड़ा पंचायत मुखिया कुणाल प्रताप,कनाप पंचायत मुखिया विजय कुमार,मनार पंचायत मुखिया उपेन्द्र राम, महावर मुखिया अशोक वर्मा,संसा मुखिया ममता कुमारी एवं अनछा पंचायत मुखिया वंदना कुमारी ने इसके लिए सभी का आभार जताया।
वाकई है स्वर्णीम पल:
सभा को संबोधित करते हुए एसडीओ ने कहा कि
एक साथ सात पंचायत खुले में शौच से मुक्त होते हुए ओडीएफ होना वाकई स्वर्णीम पल है। इसके लिए इन सभी पंचायत के प्रतिनधि बधाई के पात्र हैं।आईडीएफ घोषित होने के बाद यह समझना कि काम खत्म हो गया ,यह गलत है अभी आपका कार्य पूरा नही हुआ है,आपका असली काम अब शुरू हुआ है।लोगों में व्यवहार परिवर्तन जरूरी है उन्हें शौचालय के उपयोग करने के लिए प्रेरित करें।
उन्होंने बीडीओ की कार्यो की सराहना करते हुए कहा कि वाकई लगन के साथ कार्य करते हुए इसे अंजाम दिया है।अनुमंडल लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी ने कहा कि सभी के अथक प्रयास से यह अभियान सफल हुआ है लोगों को शौचालय निर्माण के बाद उसका उपयोग करने की जरूरत है। लाभुक शौचालय में दरवाजा एवं छत जरूर लगाएं तभी जियो टैगिंग संभव है जियो टैगिंग के बाद ही आप के खाते में राशि जाएगी उन्होंने इस कार्यक्रम के लिए प्रचार पंचायत प्रतिनिधियों को धन्यवाद दिया।
खुले में शौच से मुक्त करने की कार्य आप सभी के प्रयास के बिना संभव नही था।आप सभी खुले में न जाकर बल्कि शोचालय का इस्तेमाल करें।कुछ ग्रामीण यह सोच लेते हैं कि टँकी जल्द फूल हो जाएगा।यह चिंता न करें।
बीडीओ ने कहा कि यह सबसे बड़ी चुनोती थी।पंचायत का ओडीएफ घोषित करना सभी के सहयोग के बिना संभव नही था। वरीय पदाधिकारी का मार्ग दर्शन मिलता रहा। हरदिन मॉर्निंग वार्क होते रहा।यह प्रखंड 94 प्रतिशत ओडीएफ हो चुका है। 12 पंचायत ओडीएफ हो गया है बाकी 3 पंचायत भी जल्द इसी माह के अंत मे हो जाएगा।यह एक लंबी प्रक्रिया है । जल्द प्रखंड ओडीएफ हो जाएगा।
किया गया सम्मानित:
इस अवसर पर सभी पदाधिकारियों मुखिया पंचायत प्रतिनिधियों एवं गणमान्य लोगों को स्वच्छ भारत मिशन का प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया गया।
समारोह में सभी वार्ड सदस्य व जीविका दिदी को सम्मानित किया गया।साथ ही मुखिया प्रतिनिधि धर्मेन्द्र कुमार,मुखिया सर्योदय प्रकाश, आपूर्ति पदाधिकारी मुकेश कुमार, वैश्य जदयू अध्यक्ष शैलेश यादव एवं अन्य को सम्मानित किया गया।समारोह की अध्यक्षता चौरी के मुखिया अनिल कुमार चन्द्रवँशी ने किया।जबकि संचालन
शिक्षक कपिल विद्यार्थी ने किया।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.