इस्लाम में दखल न दे केन्द्र सरकार

img-20161028-wa0006

आज ग्राम पंचायत तरार के बड़ी मस्जिद के पास एक सभा का आयोजन किया गया, जिसमें कहा कि युनिफार्म सिविल कोड भारत के लिए सही नहीं है। भारत का संविधान यहां के सभी नागरिकों को अपने-अपने धर्म के अनुसार जीने की आजादी दे रखी है। भारत में कई संस्कृतियाँ है, हमें सभी का सम्मान करना चाहिए। मौलाना फैज साहब ने कहा कि इस देश के संविधान पर हमें नाज है। हम अपने कुरआन के बताये हुए रास्ते पर चलने के लिए कटिबद्ध है। हमें अपने धर्म में किसी प्रकार की बदलाव मंजूर नहीं है। यदि ऐसा किया जाता है तो हम सभी मुस्लिम समुदाय के औरतें व मर्द जबरदस्त विरोध करेंगे और केन्द्र सरकार द्वारा किया जा रहा प्रयास उचित नहीं है।

हस्ताक्षर अभियान चलाकर किया गया विरोध

ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड, दिल्ली की ओर से चलाये जा रहे हस्ताक्षर अभियान में तरार पंचायत के सभी मुस्लिम समुदाय के लोग भी शामिल हुए। पंचायत के बड़ी मस्जिद के साथ-साथ अन्य मस्जिदों पर भी तीन तलाक के पक्ष में हस्ताक्षर अभियान चलाया गया। मुस्लिम कॉम के लोगों ने एक समान नागरिक संहिता के विरोध में सभी मस्जिदों के पास लगे स्टॉल पर अपना-अपना हस्ताक्षर किये व एक समान सिविल संहिता का विरोध किया। इस हस्ताक्षर अभियान में मो. हाजी अब्दुल मनान, मो. फैज, मो., दस्तगीर, मो. खैरात, मो. इरशाद सहित अन्य सभी मोमीन उपस्थित थे।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.