दाउदनगर: अंकोढा और संसा के बीच की सड़क यतायात के अयोग्य

दाउदनगर प्रखंड के अन्यर्गत आने वाली दो गाँवो अंकोढा तथा संसा को जोड़ने वाली सड़क की हालत दयनीय है। इस बात को लोगों तथा प्रशाषन तक पहुंचाने के लिए क्षेत्रीय समाजिककर्ता श्री जे पी यादव ने पहल की है। तस्वीर ही सड़क की दर्द को बयां कर देती है। ये हाल है दाउदनगर से 5 KM से भी कम दूरी पर स्थित दो गाँवो के बीच को जोड़ने वाली संपर्क रोड की। 

यह सड़क अंकोढा तथा संसा के साथ साथ शंकर बिगहा, नन्दलाल बिगहा, कुसुम टोला, लीला बिगहा और बिगन बिगहा के निवासियों को आवागमन का ज़रिया है। तक़रीबन 9000 लोगों के जीवन में बहार आ जाये अगर इस सड़क को भी और सड़कों की तरह बना दिया जाए। एक अर्शे से लोग इस सड़क का इस्तेमाल कर रहे हैं और इस सड़क की बेहतरी का इंतज़ार भी कर रहे हैं।

हम ईशान किशन जैसे खिलाड़ी पे नाज़ करते हैं, गोरडीहा ग्राम के साथ जोड़कर दाउदनगर की पहचान दिलाते हैं। अगर गोरडीहा से सटे इन दोनों गाँवो के बीच की सड़क को ठीक करा दें तो गोरडीहा से नाम जोड़ना हमारे लिए और भी फख्र की बात होगी। 

पिछली बार जब माननीय नितीश जी सत्ता में आये थे उनका उद्देश्य बिहार के हर शहर को पटना से अधिकतम 6 घंटे में यातायात के साधनों से जोड़ना था। उन्होंने इस कार्य को पूरा करने की हर संभव कोशिश की। इस बार नितीश जी का उद्देश्य अधिकतम 6 घंटे में बिहार के हर गांव को पटना से यातायात के माध्यम से जोड़ना है। अगर इस इरादे के साथ बने रहना है तो इस प्रकार की सड़कों को जल्द से जल्द यातायात योग्य बनाने होंगे। केंद्र सरकार भी “प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना” के बारे में बड़ी बड़ी बातें करती है काश इस योजना का असर आस पास के गाँवो में भी दीखता।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.