सिंगिंग प्रतियोगिता “दाउदनगर की आवाज़” 20 नवंवर को

वेब पोर्टल दाउदनगर.इन एवम नवज्योति शिक्षा निकेतन द्वारा सिंगिंग प्रतियोगिता “दाउदनगर की आवाज़” का आयोजन 20 नवम्बर 2016 को किया जा रहा है। यह प्रतियोगिता दाउदनगर के चावल बाजार स्थित नवज्योति शिक्षा निकेतन के कैंपस में दोपहर 2 बजे से शुरू होगी। इस प्रतियोगिता में हिस्सा लेने के लिए ज्यादातर लोगों ने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाया था, जिसके बाद पोर्टल के सदस्यों द्वारा वेरिफिकेशन कॉल कर गायकों की भागीदारी को सुनिश्चित कराई गई थी। आखिर तक में 21 गायकों की सूची जारी की गई है जो दाउदनगर.इन पोर्टल पर मौजुद है। 

गायकों की लिस्ट के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें:

http://www.daudnagar.in/singer-name/
यह प्रतियोगिता “कराओके” अर्थात “ट्रैक” पे आधारित है जिसमें  गाने की धुन को बजाया जायगा और गाने के बोल को प्रोजेक्टर के ऊपर दिखाया जाएगा। उन गानों में म्यूजिक तो रहेगी मगर गायक/गायिका की आवाज़ नहीं। प्रतियोगी उसी गायक की कमी को पूरा कर दर्शकों और श्रोताओं को ऑर्केस्ट्रा का मज़ा देंगे। इसमें शीर्ष के तीन विजेताओं को पुरस्कृत किया जायेगा। प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले गायक को पोर्टल की तरफ से “दाउदनगर की आवाज़” का ख़िताब दिया जायेगा।

प्रोटेल का उद्देश्य आर्ट एंड कल्चर के साथ साथ हिडेन टैलेंट और टेक्नोलॉजी को बढ़ावा देना है इसलिए रजिस्ट्रेशन प्रोसेस को भी ऑनलाइन बनाकर सरल बनाने की कोशिश की गयी थी। प्रतियोगिता में शामिल होने के लिए प्रतियोगियों से किसी भी प्रकार का कोई शुल्क नहीं लिया गया है। इस प्रतियोगिता में ऑडिएंस को भी एक अहम् भूमिका दी गई है जिसमें दर्शक हर प्रतियोगी के परफॉरमेंस के बाद अपने मोबाइल से तुरंत ऑनलाइन वोटिंग कर पाएंगे। इक्षुक व्यक्ति ऑडिएंस पोल में शामिल होने के लिए पोर्टल के सदस्यों को संपर्क कर सकते हैं।

कार्यक्रम के संचालक हैं आफ़ताब राणा

मशहूर रंगकर्मी एवम फिल्म डायरेक्टर आफ़ताब राणा के संचालन में इस कार्यक्रम को आयोजित किया गया है जिसमें दर्शक के तौर पर आप भी शामिल हो सकते हैं। कार्यक्रम का सह संचालन दाउदनगर के कलाकार एवम पोर्टल के सदस्य संतोष अमन करेंगे। प्रतियोगियों के साथ साथ दर्शकों के लिए भी फिल्म जगत से जुड़े हुए मज़ेदार प्रश्नों को पेश किया जायेगा जिसका जवाब देकर आप भी पुरास्कार जीत सकते हैं। प्रतियोगियों के साथ साथ दर्शकों को ध्यान में रखते हुए इस कार्यक्रम को इस प्रकार सजाया गया है कि दर्शक सिर्फ दर्शक न रहें बल्कि कार्यक्रम का एक अहम् हिस्सा बने रहें।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.