कव्वाली हुआ स्थगित।

सदियों से चली आ रही थाना परिसर में होने वाले कव्वाली इस बार आचार संहिता के कारण स्थगित कर दिया गया है। उर्स कमिटी से जुड़े मुन्ना अजीज एक प्रेस वार्ता कर इसकी जानकारी देते हुए कहा कि हरेक वर्ष दाउदनगर थाना परिवार द्वारा इनका सालाना उर्स धूमधाम से मनाने की परंपरा चली आ रही है।साथ हर वर्ष कव्वाली होते आया है ।पर आचार संहिता लगने के वजह से रात्रि 10 बजे तक ही इसकी इजाजत मिल रही है।रात्रि 10 बजे के बाद साउंड की इजाज़त नही है जिसे देखते हुए कव्वाली सम्भव नही है।कमिटी ने आपस मे निर्णय लेकर कर इसे स्थगित कर दिया।कव्वाली के लिए सभी तैयारी पूरी थी।गया के मशहूर कव्वाल खान भारती व नागपुर की मशहूर कव्वाला शाहिन सबा चिश्ती आने वाले थे जिसके लिए एंडवास भी दे दिया गया था।बताया कि कव्वाली छोड़ कर बाकी सारा कार्यक्रम यथावद है।रविवार की सुबह में मौलाबाग स्थित नवाब अहमद खान साहब के मजार पर कुरानखानी एवं से घोड़े शाह बाबा के मजार पर कुरानखानी होगी।
दोपहर 2 बजे दरिद्र नारायण भोज का आयोजन किया जाएगा।शाम 4 बजे परंपरा अनुसार चादरपोशी का जुलूस निकाला जाएगा, जो दाउदनगर थाना परिसर से निकलकर नवाब साहब के मजार तक पहुंचेगी।शाम में परंपरा के अनुसार चादरपोशी की जाएगी। उर्स को लेकर घोड़े शाह बाबा के मजार को भव्य व आकर्षक तरीके से सजाया गया है।इस प्रेस वार्ता में प्रो अटल बिहारी वाजपई, हाफ़िज़ खुर्शीद एवं सबदर हयात शामिल थे।प्रो अटल बिहारी ने शाम छह बजे से रात्रि 10 बजे तक कव्वाली कराने का प्रस्ताव रखा पर समयाभाव देखते हुए सहमति नही बन पाई।

Leave a Reply