बकाया राशि को लेकर वर्कर एवं संवेदकों ने की तालाबंदी


गुरुवार को दाउदनगर नासरीगंज के बीच सोन पुल निर्माण करा रही एचसीसी कंपनी के कार्यालय में बकाया राशि भुगतान को लेकर वर्करों एवं संवेदकों द्वारा ताला बंद कर दिया गया बताया गया कि कई संवेदकों एवं वर्करों का लाखों रुपया कंपनी पर बकाया है।
जहां कई संवेदकों ने अपना बकाया होने का आरोप लगाया है वहीं विभिन्न विभागों में काम करने वाले वर्करों का भी बकाया राशि का भुगतान नहीं हो पाया है।संवेदकों का कहना था कि कंपनी के पूर्व पीएम श्रीनिवास राव के समय से उन लोगों का बकाया चलता रहा है. जब भी उन लोगों द्वारा बकाया की मांग की जाती थी तो उनके द्वारा टाल मटोल कर दिया जाता था। कंपनी में दूध देने वाले तथा वाहन मालिकों ने भी बकाया होने की बात कही कई वाहन मालिकों का कहना था कि वे सभी चार पहिया वाहन कंपनी में चलाते हैं, लेकिन राशि का भुगतान नहीं किया जा रहा है। वर्करों ने भी कई महीने का बकाया होने की बात कही।अंकोढ़ा पंचायत के मुखिया कुणाल प्रताप ने बताया कि पूर्व पीएम के समय से संवेदकों वर्करों का काफी बकाया राशि है।बताया गया कि ओबरा विधायक वीरेंद्र कुमार सिन्हा, मुन्ना शर्मा ,मुन्ना अजीज एवं संजय प्रसाद के अलावे कई लोगों से पूर्व प्रोजेक्ट मैनेजर एम श्रीनिवास राव द्वारा कर्ज लिया गया था। विधायक ने बताया कि उन्होंने पूर्व पीएम को कर्ज दिया था और जब वे जा रहे थे तो उनसे कहा था कि पैसा मिलना चाहिए ,लेकिन वर्तमान पीएम ने कहा कि पैसा मिल जाएगा। लेकिन आज तक उन लोगों का बकाया भुगतान नहीं हो पाया है।वहीं, इस संबंध में पूछे जाने पर वर्तमान पीएम अशोक कुमार उपाध्याय ने बताया कि वर्करों का दो महीने का अक्टूबर महीने तक का वेतन भुगतान कर दिया गया है। हड़ताल अवधि यानी दो महीने का उनका बकाया है।संवेदकों एवं वाहन मालिकों के बकाया होने की बात स्वीकार करते हुए श्री उपाध्याय ने कहा कि कंपनी का ऑडिट चल रहा है और ऑडिट समाप्त होने के बाद बकाया राशि का भुगतान कर दिया जाएगा। प्रोजेक्ट मैनेजर श्री राव ने स्थानीय लोगों से जो कर्ज लिया था ,उसकी भी जांच की जा रही है और ऑडिट के बाद सब का भुगतान करवा दिया जाएगा।

Leave a Reply