नशा मुक्त हो बिहार ।

बिहार सरकार ने 1 अप्रैल 2016 से राज्य में शराब पीना पिलाना धंधा करना गैरकानूनी घोषित किया जो एक क्रांतिकारी फैसला था। उन्होंने कहा शराब पीने से 200 तरह की बीमारियां होती है मनुष्य मन और बुद्धि दोनों का नाश करता है ।जब लोग शराब के आदी हो जाते हैं तो संपत्ति शरीर एवं बुद्धि तीनों का नाश होता है ।उक्त बातें
औरंगाबाद दाउदनगर पटना रोड स्थित भगवान प्रसाद प्रसाद बीएड कॉलेज में छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए पूर्ण शराबबंदी के ब्रांड एम्बेसडर महानिदेशक बिहार पुलिस अकादमी सह बिहार सैन्य पुलिस गुप्तेश्वर पांडेय
ने कही। उन्होंने औरंगाबाद के वीर जवान शहीदों की भूमि क्रांतिकारियों की भूमि को नमन किया। उन्होंने कहा आदमी को जीवन में ऊंचाई प्राप्त करने के लिए मन और बुद्धि दोनों सही होना जरूरी है और शराब इसी को खराब करता है ।ईश्वर ने हमें बेशकीमती शरीर मन एवं बुद्धि दिया है उसे शराब पीकर खराब ना करें ।उन्होंने कहा बहुत ही महत्वपूर्ण चीजें जीवन के निर्णय में यही मन करता है सभी कर्मों का करता मन है ,मन बुद्धि का स्तर दोनो पर पड़ता है शराब व्यक्ति के व्यक्तित्व को बदल देता है बुद्धि को भ्रष्ट कर देता है उन्होंने वह कुटुंबकम एवं नारी सर्वत्र पूज्यते को चरितार्थ करते कहा हमारी संस्कृति उन्नत है लेकिन नशे के द्वारा इसे खराब करने की कोशिश की जा रही है उन्होंने छात्र-छात्राओं से नशा मुक्त हो बिहार जय बिहार के नारे भी लगवाए ।कॉलेज के सचिव डॉ प्रकाश चंद्रा ने उनकी तारीफ करते कहा नक्सलवाद एवं अपराध के लड़ाई के बाद उन्होंने नशा पान के विरुद्ध आह्वान किया है यह बहुत अच्छी चीज है ।इस अवसर पर एसडीपीओ राजकुमार तिवारी प्राचार्य अजय कुमार पूर्व मुखिया राधे श्याम सिंह, चिंटू मिश्रा ,राव मनीष यादव,सनोज यादव,मुकेश मिश्रा, त्रिपुरारी बाबा,प्रशांत इन्द्रगुरु,डीपी यादव,नवलेश यादव,निशांत कुमार आदि मौजूद थे।
बच्चो के बीच बन गए बच्चे डीजे।
नवरत्न चक स्थित संस्कार विद्या में बिहार में पूर्ण नशा मुक्ति के जन चेतना शिविर में शामिल होने बिहार सैन्य पुलिस गुप्तेश्वर पांडेय पहुंचे। विद्यालय परिसर में श्री पांडेय का स्वागत विद्यालय प्रबंधन द्वारा किया गया।बीएमपी बटालियन द्वारा उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया
संस्था के सीएमडी सुरेश कुमार गुप्ता ने उनका स्वागत किया ।बिहार की पूर्ण शराबबंदी के समर्थन में विद्या निकेतन ग्रुप ऑफ स्कूल्स एवं धर्मवीर फिल्म एंड टीवी प्रोडक्शन के संयुक्त तत्वाधान में बनी फिल्म “एक अप्रैल अल्कोहल फ्रीडम डे ऑफ बिहार” का कैसेट पूर्ण शराबबंदी के ब्रांड अंबेसडर बीएमपी के पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय को संस्था के सीएमडी सुरेश कुमार गुप्ता,सीइओ आनंद प्रकाश एवं फिल्म निर्देशक धर्मवीर भारती ने सौंपा ।कला प्रभा संगम संस्था के सचिव गोविंदा राज के नेतृत्व में छात्र-छात्राओं द्वारा शराबबंदी का थीम गीत “बदल रहा बिहार …”भी प्रस्तुत किया गया।इस गीत को दाउदनगर के रंगकर्मी संजय तेजस्वी ने लिखा है।जिसे अनूप सिन्हा द्वारा गाया गया है।
संस्कार विद्या में श्री पांडेय ने बच्चों के बीच जाकर उनसे बातें की।” नशा मुक्त हो बिहार एवं जय बिहार “के नारे लगवाए।बच्चों से उनके कैरियर प्लान के बारे में जाना और उन्हें उत्साहित किया ।डीजे श्री पांडेय ने कहा कि भारत युवाओं का देश कहलाता है, लेकिन नशा के सेवन से यह गौरव जल्द ही जा सकता है ।आज संकल्प लें कि न हम कभी नशा करेंगे और न ही किसी को करने देंगे ।भारत की युवा शक्ति को संभाल कर रखना है क्योंकि दुनिया को भारतीय युवाओं की बहुत आवश्यकता है।परिवार को आपके जीवन की जरूरत है।सभी सामाजिक बुराइयों की जड़ शराब है, लेकिन हम जान कर भी अनजान बनने का नाटक करते हैं ,जिसके कारण हमारी सोचनीय शक्ति, हमारी कार्य क्षमता व हमारा सुंदर चरित्र धीरे धीरे बदहाल हो जाता है ।एक सुंदर जीवन के लिए शराब जहर के समान है। इस मौके पर दाउदनगर एसडीपीओ राजकुमार तिवारी, भगवान प्रसाद शिवनाथ प्रसाद बी एड कॉलेज के सचिव डॉ प्रकाश चंद्रा, संस्कार विद्या के प्राचार्य ए के मिश्रा,, कृष्णा कोचिंग इंस्टीट्यूट रैंकर्स पॉइंट के निदेशक मदन कुमार, वरिष्ठ होम्योपैथ चिकित्सक डॉ मनोज कुमार आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply