दाउदनगर पहुँचे कुंडली भाग्य के लेखक प्रभात बान्धुल्या


दाउदनगर की कला और साहित्य के क्षेत्र में सक्रियता देखकर खुश हूं मिट्टी की खुश्बू है जिसे मुम्बई तक लेकर जाऊंगा।बिहार में छठ पर्व का गौरवपूर्ण वर्णन है। उक्त बातें कला प्रभा संगम एवं कात्यायन संगीत प्रशिक्षण के सदस्यों के छठ गीत के रिलीजिंग सह सम्मान समारोह में
प्रभात बान्धुल्या ने कही । गौरतलब हो कि प्रभात बालाजी टेली फ़िल्म के बैनर तले जी टीवी पर आ रही सीरियल कुंडली भाग्य के पटकथा लेखक हैं।
। धारावाहिक कुंडली भाग्य एवं बनारसवाला इश्क के लेखक प्रभात बांधुल्या रविवार को दाउदनगर पहुंचे थे।दोनों संस्थाओं के सदस्यों ने उनका स्वागत करते हुए उन्हें सम्मानित किया ।।उनके साथ आए राज पाठक को भी सम्मानित किया गया।संस्था के संरक्षक विजय चौबे ने कहा कि संस्था के कलाकारों स्वीनीत कात्यायन, अभिनीत कात्यायन,देव शर्मा, अंजन सिंह विक्की, मनोज मुस्कान द्वारा छठ गीत गाए गये हैं।प्रभात बांधुल्या ने इस निमंत्रण के लिए संस्था के सचिव गोविंदा राज को धन्यवाद दिया और संस्था को हरसंभव सहयोग करने के प्रति आश्वस्त किया।औरंगाबाद से आए संगीतज्ञ सुनील पाठक ने भी इस मौके पर गीत प्रस्तुत किए। इस मौके पर वरिष्ठ रंगकर्मी ब्रजेश कुमार, द्वारिका प्रसाद के अलावे और राजा मंडल, एसपी सुमन आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply