जहांगीर बने अध्यक्ष, अवधेश सचिव।


बिहार राज्य अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ (गोप गुट)की हसपुरा प्रखंड कमेटी का चुनाव महासंघ के जिला संयुक्त सचिव एवं इस चुनाव के प्रेक्षक सत्येंद्र कुमार की देखरेख में किया गया।इस मौके प्रेक्षक के रूप में जिला जिला कोषाध्यक्ष अजय कुमार सिंह एवं सह प्रेक्षक के रूप में शिक्षक नेता गोपाल प्रसाद गुप्ता भी उपस्थित रहे। इस चुनाव में सेवानिवृत्त शिक्षक दिनेश प्रसाद सिंह को सम्मानित अध्यक्ष चुना गया। प्रखंड कमेटी के लिए सभी का चुनाव सर्वसम्मति से किया गया ।हसपुरा प्रखंड मुख्यालय में आयोजित एक बैठक में कार्यपालक सहायक मो. जहांगीर आलम को अध्यक्ष, प्रधानाध्यापक अवधेश कुमार को सचिव, प्रखंड नाजिर दिलीप ठाकुर को कोषाध्यक्ष, प्रधानाध्यापिका प्रभा कुमारी, कार्यपालक सहायक श्रवण कुमार एवं टोला सेवक शिव पूजन कुमार को उपाध्यक्ष, जनसेवक विनय कुमार, कार्यपालक सहायक अजय कुमार व प्रधानाध्यापक शमशेर आलम को संयुक्त सचिव तथा शिक्षिका शशि बाला को संघर्ष कोष अध्यक्ष, शिक्षक आलमगीर अख्तर को संघर्ष सचिव एवं शिक्षिका कुमारी उषा सिन्हा को संघर्ष कोषाध्यक्ष चुना गया। बैठक को संबोधित करते हुए जिला संयुक्त सचिव ने कहा कि आज उदारीकरण,खगोलीकरण व वैश्वीकरण की सोच से प्रेरित जिस तरह की नई आर्थिक नीति पिछले 20 वर्षों से हमारे देश में चलाई जा रही है,उससे संगठित क्षेत्र के श्रमिकों के हितों को भारी नुकसान पहुंचा है ,जबकि असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का जीवन भर से बदतर होता चला गया है। या कांटेक्ट, मानदेय पर बहाली, नियमित पदों की समाप्ति एवं अंशदायी पेंशन योजना , सरकारी कर्मियों एवं अन्य सुविधाओं में कटौती जैसी आर्थिक नीतियों के दुखदायी परिणाम हैं।इस मौके पर शिक्षक नेता नवल किशोर ,बुधन सिंह, दिनेश प्रसाद सिंह ,संजय कुमार विनय कुमार, प्रभा कुमारी आदि ने भी अपने विचार व्यक्त किए।सभा की अध्यक्षता प्रखंड नाजिर दिलीप ठाकुर ने की।

Leave a Reply