पुलिस स्मृति दिवस के अवसर पर शहीदों को किया गया याद।


देश की रक्षा करते हुए प्राणों की आहुति देने वाले शहीदों को पुलिस स्मृति दिवस पर रविवार को याद किया गया।
देश के लिए शहीद हुए पुलिस और अर्धसैनिक बलों के जवानों की याद में पुलिस स्मृति दिवस के अवसर पर
शहीदों को याद किया गया। पुलिस पदाधिकारियों द्वारा शहीद जवानों के घर जाकर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई तथा शहीद जवानों के परिजनों को सम्मानित किया गया। एसडीपीओ राजकुमार तिवारी, थानाध्यक्ष अभय कुमार सिंह ,सब इंस्पेक्टर शेखर सौरभ ,ब्रजेश यादव समेत अन्य पुलिस अधिकारियों एवं पुलिस बल ने दाउदनगर शहर के निवासी तीन शहीदों के घर पर जाकर उनकी तस्वीर पर माल्यार्पण किया तथा उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुये उनकी शहादत को याद किया गया। शहीदों के परिजनों को सम्मानित किया गया।कर्तव्य पालन के दौरान शहीद होने वाले पुलिस के जवानों की याद में पुलिस बलों द्वारा हर वर्ष 21 अक्टूबर को पुलिस स्मृति दिवस मनाया जाता है।
पुलिस स्मृति दिवस के अवसर पर नप के पूर्व उप मुख्य पार्षद एवं वार्ड संख्या 24 के वार्ड पार्षद कौशलेंद्र कुमार सिंह, वार्ड पार्षद बसंत कुमार, धीरज पाठक ,राजू कुमार सिंह ,प्रभात छोटू आदि उपस्थित थे।


इन शहीदों के परिजनों को किया सम्मानित:

(1)पुलिस पदाधिकारी पुराना शहर के वार्ड संख्या 5 स्थित माली टोला (फुले नगर) में शहीद प्रमोद सिंह यादव के घर पहुंचे और उनके बड़े भाई को शॉल और बुके प्रदान कर सम्मानित किया गया ।शहीद प्रमोद सिंह के तस्वीर पर माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया गया

(2)पुलिस पदाधिकारी दाउदनगर शहर के वार्ड संख्या 22 के बिगन बिगहा स्थित शहीद हवलदार अवधेश सिंह के घर पहुंचे और उनकी पत्नी शांति देवी को सम्मानित किया तो पत्नी की आंखें नम हो उठीं

(3)शहर के वार्ड संख्या 17 निवासी शहीद मिथिलेश प्रसाद के घर जाकर पुलिस पदाधिकारियों ने उनके बड़े भाई राम नरेश प्रसाद को सम्मानित किया ।शहीद मिथलेश प्रसाद की तस्वीर पर श्रद्धा सुमन अर्पित किया गया। बताया गया कि शहीद मिथलेश प्रसाद गया जिले के टेकारी के थानाध्यक्ष थे। 13 फरवरी 2010 को कोच थाना के मझियांवा गांव के आसपास नक्सलियों के साथ मुठभेड़ करते हुए शहीद हुये थे।

Leave a Reply