नवरात्र के मौक़े पर दिखा डाण्डिया एवं नृत्य का नज़ारा

नवरात्र के मौक़े पर दाउदनगर चावल बाज़ार स्थित धर्मशाला में   डाण्डिया नृत्य का नज़ारा देखने को मिला। रौनयार वैश्य समिति द्वारा आयोजित दुर्गा पूजा के पंडाल में कला प्रभा संगम के कलाकारों द्वारा नृत्य एवं डाण्डिया की प्रस्तुति की गई। आज नवमी के मौक़े पर तक़रीबन रात आठ बजे से इस कार्यक्रम की शुरुवात की गई। कला प्रभा संगम के कलाकारों द्वारा कई सारे नृत्य की प्रस्तुति की गई। जिसमें “इतनी सी ख़ुशी”, “कान्हा सो जा ज़रा”, “ढोल बाजे-ढोल बाजे”, “मैया यशोदा ये तेरा कन्हैया” इत्यादि गानों पर संस्था के नन्हें कलाकार अपनी नृत्य कला को प्रस्तुत किया।
पंडाल में माँ दुर्गा का दर्शन करने आ रहे श्रधालु दर्शन के पश्चात मानो थम से जा रहे थे। दर्शक बनकर कलाकारों का जमकर मनोबल बढ़ाया। संस्था के सचिव गोविन्दा राज बे बताया कि ये नन्हें-मुन्ने कलाकार कई दिनों से नृत्य का अभ्यास कर रहे थे और आज नवरात्रा के शुभ अवसर पर बेहतर प्रदर्शन कर रहे हैं। दर्शक के रूप में महिलायें भी भारी संख्या में शामिल रहीं। नृत्य के अलावा डाण्डिया का अच्छा ख़ास मनमोहक दृश्य देखने को मिला। ग्रूप में बच्चियों ने डाण्डिया नृत्य से शमा बाँध दिया जिसको गोविन्दा राज ख़ुद लीड कर रहे थे।
जानकारी के मुताबिक़ संस्था के कलाकारों में बेहतर प्रदर्शन करबे वालों के चयन हेतु जुरी टीम भी बनाई गई थी। ज़री टीम में स्थानीय निवासी विश्वनाथ प्रसाद, धनेश प्रसाद एवं नवज्योति शिक्षा निकेतन के निदेशक नीरज गुप्ता मौजूद थे। कार्यक्रम के मंच का संचालन दो युवतियों कुहु एवं आविशि द्वारा किया गया।

Leave a Reply