सफ़ाई को लेकर लोगों की अपेक्षाओं पर खरे नहीं उतर रहे एनजीओ के लोग

शहर के कई जगहों पर गंदगी लम्बे समय से फैलते जा रहा है। चाहे ओ बाज़ार का इलाक़ा हो या कोई मुहल्ला। साफ सफाई को लेकर तमाम वायदे, प्रयास एवं अभियान चलाए गए पर कई मोहल्ले के लोग मच्छरों से परेशान हैं। मच्छरों का प्रकोप इस कदर बढ़ा है कि रात के वक्त खुले में कुछ देर एक स्थान पर खड़े नहीं हो सकते। अधिक मात्रा में मच्छर गंदगी की ही देन है। गली, मोहल्ले व सड़क के किनारे साफ सफाई की जो स्थिति बननी चाहिए थी वह नहीं बन सकी है। अभी भी जगह-जगह कूड़े के ढेर लगे हैं। वार्ड नं 3 का ही हाल देख लीजिए। वहां के लोगों का कहना है कि कई दिनों से एनजीओ के स्टाफ को बोलने के बावजूद सफ़ाई पर ध्यान नहीं दे रहे हैं। ऐसे ही हाल कई मोहल्ले कीहै।

सफ़ाई को लेकर पहले से बेहतर हालात ज़रूर हुए हैं मगर हालात इतने भी अच्छे नहीं हुए जिसे आज के इस दौर में स्वीकार किया जाए। एनजीओ के माध्यम से सफ़ाई का कार्य कराया जा रहा है तो उस प्रकार की गुणवक्ता की लोग अपेक्षा भी करते हैं।

Leave a Reply