नदी बचाओ संघर्ष समिति के संयोजक बनें आश्विनी तिवारी

संतोष अमन की रिपोर्ट:-

अश्विनी तिवारी को नदी बचाव संघर्ष समिति दाउदनगर अनुमंडल के संयोजक बनायेे गये। अश्विनी तिवारी नदी बचाव संघर्ष समिति के पूर्व से प्रदेश कार्यसमिति सदस्य हैं। इस आशय कि जानकारी देते हुये नदी बचाव संघर्ष समिति के प्रदेश अध्यक्ष नागेंद्र दुबे ने कहा 

इनके संयोजक बनने से दाउदनगर सोन नदी एवं अगल बगल के नदी नाले के अवैध ढंग से निकली जा रही बालू तथा मिट्टी पर लगेगी लगाम।इनको नदी बचाव संघर्ष समिति के संयोजक बनने पर भाजयुमो नेता विवेकानंद मिश्र,राजकुमार शर्मा,नागेंद्र शर्मा,सुरेन्द्र यादव,रामपुकार पाण्डे,धीरज पाठक,प्रमोद कुमार,सुनील दुबे,बुलबुल तिवारी,सतेंद्र तिवारी,ब्रजेश पाठक,राजेश तिवारी,विजय संकर तिवारी,पंकज यादव,जय गोबिंद प्रसाद आदि ने बधाई दिया।इनलोगों ने कहा कि श्री तिवारी राजनीति एवं सामाजिक कार्यकर्ता के रूप में दसको से संघर्षसिल रहे है।हम लोगो को आसा ही नही पूर्ण विस्वाश है कि इनके नेतृत्व में हो रहे अवैध बालू निकासी पर नकेल कसेगी।संयोजक बनने पर श्री तिवारी ने कहा कि प्रदेश अध्यक्ष ने मुझ पर विस्वाश कर अनुमंडल का संयोजक बनाया है।इसे मैं चुनौती के रूप में स्वीकार करता हूँ।तथा हम प्रयास करेंगे कि सक्षम पदाधिकारियों से मिलकर दाउदनगर के तमाम बालूघाट एवं देवहरा,चनहट, कोइलवां, इत्यादि जगहों से हो रहे अवैध बालू निकासी पर अनुमंडल पदाधिकारी,अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी,गोह बीडिओ,सी ओ,हसपुरा,दाउदनगर,ओबरा,के सभी पदाधिकारियों के साथ बैठक कर यह निर्णय लिया जाएगा कि अवैध निकासी बंद हो।अगर सक्षम पदाधिकारी द्वारा बन्द नही कराया गया तो सोन नदी एवं पुनपुन नदी के लिए जन आंदोलन छेड़ूँगा।श्री तिवारी ने यह भी कहा कि मैं जिला पदाधिकारी से मिलकर अपने क्षेत्र में हो रहे अवैध बालू उठाव के संबंध में बात करेंगे।हालांकि जिला पदाधिकारी द्वारा 1जुलाई से प्रतिबंध लगाने के लिए कहा गया है।जिला पदाधिकारी को चाहिए था कि पहले ही वैध बालूघाट से ट्रम्प कर लेनाचाहिए था।और उसके बाद लोगों को बालू की सुविधा मुहैया कराया जाता।।

Leave a Reply