एक मजदूर के बेटे ने अपनी प्रतिभा के बल पर लाया जिले में नौवां स्थान

यदि विद्यार्थी ईमानदारी व कर्तव्यनिष्ठापूर्वक पढाई करे तो वह अपने माता-पिता का सपना साकार कर सकता है। अशोक इंटर स्कूल के विद्यार्थी दशरथ कुमार ने इंटरमीडीयट विज्ञान संकाय की परीक्षा में 402 यानी 80.4 प्रतिशत अंक लाकर यह साबित कर दिखाया है। वह शहर के पटवा टोली निवासी जगनारायण प्रसाद का पुत्र है। उसने औरंगाबाद जिला स्तर पर टॉप-10 में नौवां स्थान प्राप्त किया है। उसने अपनी सफलता का श्रेय अपने माता-पिता एवं गुरूजनों को देते हुये कहा कि पिछले साल भी उसने परीक्षा दी थी लेकिन जब रिजल्ट आया तो उसे एक विषय में अनुपस्थित दिखा दिया गया था जबकि उसने उस विषय की परीक्षा दी थी। सुधार कराने के लिये बिहार विद्यालय परीक्षा समिति में गया लेकिन सुधार नहीं हो सका। उसकी पढाई एक वर्ष पीछे चली गई। उसने इस वर्ष परीक्षा दिया और बेहतर अंक लाकर जिले में नौवां स्थान प्राप्त किया। उसका लक्ष्य आईआईटी कर इंजीनियर बनने का है। उसकी इस सफलता पर आरटीपीएस दाउदनगर के कार्यपालक सहायक आशीष कुमार ने बधाई देते हुये कहा कि उसके पिता मजदूरी करते हैं। एक मजदूर के बेटे ने अपनी प्रतिभा के बल पर बेहतर अंक लाकर अपने माता-पिता के सपने को साकार करने की दिशा में कदम बढाया है। 

Leave a Reply