नाश्ता करने के कुछ ही देर बाद बारातियों की हालत बिगड़ी


फूड प्वायजनिंग के कारण शुक्रवार की देर रात दर्जनों बाराती बीमार पड़ गये,जिनका इलाज शनिवार की सुबह तक की गई।जानकारी के अनुसार,दाउदनगर प्रखंड के सिमराबाग से बारात अरवल जिले के कलेर प्रखंड के लोदीपुर गांव में गयी थी।देर रात बारात पहुंचने के बाद बारातियों को नाश्ता कराया गया।नाश्ता करने के कुछ ही देर बाद बारातियों की हालत बिगड़ने लगी।उन्हें कै-दस्त होने लगा।रात्री में ही बीमार बारातियों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया।कुछ बीमार बारातियों का इलाज अरवल जिले के कलेर पीएचसी तो पैंतीस से भी अधिक का इलाज दाउदनगर पीएचसी में किया गया।सबों को दो से तीन की संख्या में स्लाइन चढ़ाया गया और आवश्यक दवाएं दी गई।कुछ को ओ आर एस दिया गया।सभी बीमार बारातियों की हालत में सुधार होने के बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी दी गई।बीमार बारातियों में दस बच्चे भी शामिल हैं ।दाउदनगर पीएच सी में जिन बारातियों का इलाज किया गया,उनके नाम हैं-अंकित राज,छोटू कुमार,अनील कुमार,प्रिंस कुमार,राजू कुमार,रामकुमार सिंह,रिशु कुमार,छोटू कुमार,बुधन यादव,नवनीत कुमार,रणविजय कुमार,बलिराम सिंह,योगेंद्र सिंह,गणेश सिंह,गोविंद कुमार,रंधीर कुमार,पिंटु कुमार,धनंजय कुमार,राजेंद्र सिंह,रिशु कुमार,चंद्रभूषण सिंह,सोनू कुमार,रामकुमार सिंह(सभी निवासी सिमराबाग),प्रवीण कुमार,वीक्की कुमार,सहर्ष राज,उपेंद्र कुमार,हर्ष राज(सभी निवासी-दिलावरपुर),कंचन कुमार,अमित कुमार(निवासी उछ्छाल बिगहा),संतोष कुमार(निवासी-सुखदेवन बिगहा),अजीत कुमार,पिंटु कुमार(निवासी-जमुआंव),रंजीत कुमार(निवासी-कुंड़वा ,फेसर),विनय सिंह(निवासी-चौरी)।*इलाज कलेर व अरवल में भी-चौरी पंचायत के पूर्व मुखिया प्रतिनिधि डा.राजकुमार सिंह एवं पूर्व प्रखंड प्रमुख अखिलेश प्रसाद सिंह ने अपनी देखरेख में बीमार बारातियों का इलाज दाउदनगर पीएचसी में कराया।राजकुमार ने बताया कि सिमराबाग निवासी नरेश यादव के घर से उनके पुत्र की बारात लोदीपुर गयी थी।पीएचसी में अव्यवस्था का माहौल भी दीखा।इलाज में प्राइवेट प्रेक्टिशनर का भी सहयोग लिया गया।कुछ दवाएं बाहर से भी मंगाई गयी।

Leave a Reply