आवेदन पत्र में परिवर्तन करने का आरोप


शहर के वार्ड संख्या-07 के आंगनबाडी केंद्र संख्या-1 पर सहायिका पद पर बहाली में आवेदन पत्र में परिवर्तन करने का आरोप एक आवेदिका रीता देवी द्वारा लगाया गया है। आवेदिका का कहना है कि बहाली के आवेदन के साथ योग्यता प्रमाण पत्र की छायाप्रति भी संलग्न की थी लेकिन जब शुक्रवार को साक्षात्कार हुआ तो उन्हें बताया गया कि उनके आवेदन में भारी गडबडी है। रीता देवी का कहना है कि उनकी योग्यता आठवीं पास है। सहायिका पद के लिए दो आवेदन थे। मुझे विश्वास है कि मेरे आवेदन में गडबडी कर छांटा गया है। मेरे पति बीते दस वर्षो से लकवाग्रस्त हैं जबकि अन्य आवेदिका उनसे संपन्न एवं कम उम्र की है। आवेदिका रीता कुमारी ने कहा कि पर्यवेक्षिका द्वारा कथित रूप से मनमानी करते हुये सहायिका का चयन किया जा रहा है जिसके खिलाफ वे उच्च अधिकारियों के पास गुहार लगाएंगी। दूसरी ओर चयन समिति की सचिव सह पर्यवेक्षिका रेखा कुमारी ने कहा कि सहायिका पद पर शीला देवी का चयन पूरी पारदर्शिता के साथ किया गया है। आम सभा में किसी के द्वारा भी कोई लिखित आपति नहीं व्यक्त की गई है। यदि किन्हीं को आपति है तो वे बाल विकास परियोजना कार्यालय में भी अपना आवेदन दे सकते हैं।

Leave a Reply