पहली बार औरंगाबाद और दाउदनगर के कलाकार एक साथ मिलकर चंडीगढ़ में करंगे नाटक मंचन ।


डिपार्टमेंट ऑफ कल्चरल अफेयर्स, चंडीगढ़ एडमिनिस्ट्रेशन और टैगोर थिएटर सोसाइटी के विशेष आमंत्रण पर 27 मई को धर्मवीर फ़िल्म एंड टीवी प्रोडक्शन व नाट्य भारती ग्रुप, ‘चंडीगढ़ थिएटर फेस्टिवल-2017’ में हिंदी नाटक “अंजाम-ए-गुलिस्तां क्या होगा?” का मंचन करेगा।

चंडीगढ़ थिएटर फेस्टिवल-2017 का आयोजन चंडीगढ़ के सेक्टर 18 में स्थित टैगोर थियेटर में  किया गया है।

अंजाम-ए-गुलिस्तां क्या होगा? नाटक के लेखक एव निर्देशक धर्मवीर भारती ने बताया कि इस तीन दिवसीय नाटक  फ़ेस्टिवल में पहला दिन रंगकर्मी एवं बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री हिमानी शिवपुरी और बॉलीवुड के हास्य अभिनेता लिलिपुट का संयुक्त रूप से ‘तोता मैना की कहानी’ नाटक का मंचन है।

दूसरे दिन औरंगाबाद के नाटक ‘अंजाम-ए-गुलिस्तां क्या होगा?’ का मंचन है एवं आखिरी दिन मशहूर रंगकर्मी शेखर सेन का नाटक ‘तुलसी’ का मंचन है।

धर्मवीर फ़िल्म एंड टीवी प्रोडक्शन की एम.डी. डॉली ने बताया कि चंडीगढ़ एडमिनिस्ट्रेशन द्वारा जारी पोस्टर एवं होर्डिंग बोर्ड में रंगकर्मी धर्मवीर भारती का नाम स्टारकास्ट में शामिल किया गया है।चंडीगढ़ थिएटर फ़ेस्टिवल में हिमानी शिवपुरी, लिलिपुट, धर्मवीर भारती और शेखर सेन का नाम स्टारकास्ट के रूप में है ।

रंगकर्मी और फ़िल्म निर्देशक आफ़ताब राणा ने कहा कि चंडीगढ़ फेस्टिवल में औरंगाबाद के नाटक का चयन औरंगाबाद के रंगमंच के लिए मील का पत्थर साबित हुआ है और ख़ास बात की पहली बार औरंगाबाद और दाउदनगर के कलाकार एक साथ मिलकर चंडीगढ़ में नाटक मंचन करेगे।

ह्यूमैनिटी के सचिव सोनू अग्रहरी ने कहा कि मशहूर हिंदी नाटक “अंजाम-ए-गुलिस्तां क्या होगा?” का मंचन देहरादून, कोलकत्ता और शिमला में किया जा चुका है और तीनों जगह राष्ट्रीय स्तर पर विजय रहा है।

नाटक में दाउदनगर के रंगकर्मी संदीप सिंह, संकेत कुमार सिंह, पप्पू कुमार, मधुलिका रानी, दीपा रानी औरंगाबाद के रंगकर्मी आफ़ताब राणा, सोनू अग्रहरी, रणवीर कुमार, नागेंद्र दुबे, संजर रहमानी, मज़हर खान, सरोज सिंह, चंदन कुमार सिंह, राजेश कुमार सिन्हा, कपिल देव संगीत महाविद्यालय के डायरेक्टर राजीव कुमार पांडेय चंडीगढ़ के मंच पर दमदार अभिनय,  फ़िल्म कलाकरो एवं चंडीगढ़ एडमिनिस्ट्रेशन के होम सेक्रेटरी के समक्ष करेगें।

Leave a Reply