आखीर क्यों नहीं मिल रही शौचालय की राशि।

शहर के वार्ड संख्या 4 में हर घर शौचालय योजना के तहत चयनित लाभुकों को आज तक प्रथम किस्त की राशि नहीं मिली।करीब चार महीना पहले वार्ड पार्षद शकीला बानो की अध्यक्षता में आयोजित आमसभा में शौचालय निर्माण के लिए करीब एक सौ लाभुकों का चयन किया गया था।जिसमें प्रथम चरण में करीब एक दर्जन लाभुकों के बैंक खाते में प्रथम किस्त की राशि भेजी जानी थी,लेकिन छह लोंगो को आज तक यह राशि भी नहीं भेजी गई।दूसरे चरण के शेष बचे लोग भी अपने घरों में करीब चार महीने से गड्ढा खोदकर रखे हुए हैं और आज तक उन्हें प्रथम किस्त की राशि भी नहीं मिली।वैष्णवी मिश्रा,शशीकला,हकीम कुरैशी,महमूद खां,बिंदा राम आदि का कहना है कि तीन तीन बार जांच किया गया।गड्ढा आज भी जस का तस है।खेलते खेलते बच्चों के गिरने का डर बना रहता है।मगर आज तक प्रथम किस्त नहीं मिलने के कारण घरों में शौचालय नहीं बनवा सके हैं।गरीबी के कारण अपने स्तर से शौचालय बनवाने में असक्षम हैं,इसलिए मजबूरन खुले में शौच करना पड़ रहा है।दिव्यांग नेत्रहीन एक्यूप्रेशर चिकित्सक डा.विकास मिश्रा ने आरोप लगाया कि इस वार्ड को राजनीति का शिकार बनाया जा रहा है।इस वार्ड में तीन तीन बार जांच किया गया तो अन्य वार्डों में क्यों नहीं।वार्ड पार्षद प्रतिनिधि तारीक अनवर ने कहा कि यह बात सच है कि पहली बार स्थापना सहायक,दूसरी बार टैक्स दारोगा एवं तीसरी बार खुद कार्यपालक पदाधिकारी द्वारा जांच किया गया है ,जांच में शिकायत को गलत पाए जाने के बावजूद प्रथम किस्त की राशि नहीं मिलने के कारण चयनित लाभुकों के आक्रोश का सामना करना पड़ रहा है।

लाभुकों के चयन के बाद उनका आवेदन निर्धारित प्रपत्र में लेकर नप कार्यालय में जमा किया गया।इसके बाद स्थापना सहायक सह इस वार्ड के पर्यवेक्षक नरेंद्र भगत ने जांच की।प्रक्रिया शुरु होने के बाद किसी के मौखिक शिकायत के आधार पर फिर से  प्रभारी टैक्स दारोगा मनोज कुमार गुप्ता से जांच करायी गयी।फिर खुद इ ओ ने जांच के दौरान शिकायतों को गलत पाया तो अभी तक किस कारण से लाभुकों को प्रथम किस्त नहीं दिया गया।

Leave a Reply