गरीबों के आवास के लिये दो चरणों में होगा आंदोलन

संतोष अमन की रिपोर्ट:-

भाकपा माले लिबरेशन की जिला इकाई ने खेत मजदूरों के व्यापक हित में बड़े आंदोलन की तैयारी किये जाने का निर्णय लिया है। इसके लिये अखिल भारतीय ग्रामीण मजदूर सभा की सदस्यता अभियान 15 मई से 15 जून तक चलाकर संगठित किया जाएगा। यह जानकारी देते हुये भाकपा माले के जिला सचिव जनार्दन प्रसाद सिंह ने एक प्रेस बयान जारी कर कहा है कि संगठन अब सरकार पर अधिक दिनों पर भरोसा नहीं करेगी। वास-आवास की जमीन के लिये धारावाहिक आंदोलन चलाया जाएगा। यदि सरकार द्वारा गरीबों एवं भूमिहीनों को जमीन नहीं दिया गया तो उस पर झंडा गाड़कर गरीबों को बसाया जाएगा। गरीबों के आवास के लिये दो चरणों में आंदोलन चलाया जाएगा। जो गरीब वर्षो से जमीन पर बसे हुये हैं उन्हें पर्चा देने की मांग एसडीओ, सीओ व बीडीओ से की जा चुकी है। दो महीने के भीतर कोई पहल नहीं हुई तो आगे के आंदोलन की रूपरेखा तैयार की जाएगी। उन्होंने बताया कि सभी प्रखंड कमेटियां, पार्टी सदस्यों, खेग्रामस के सदस्य एकजुट होकर सदस्यता अभियान को सफल बनाएंगे। गांव में रहने वाले गरीबों मजदूरों को बड़े पैमाने पर सदस्य बनाया जाएगा। जिले में एक लाख सदस्य बनाने का लक्ष्य रखा गया है। अखिल भारतीय किसान महासभा का राष्ट्रीय सम्मेलन बिरसा मुंडा के शहादत पर आगामी 9-10 जून को झारखंड के हजारीबाग में आयोजित है। जिसका उद्घाटन भाकपा माले के राष्ट्रीय महासचिव दिपंकर भट्टाचार्य करेंगे। किसान महासभा का जिलास्तरीय विस्तारित बैठक 21 मई को ओबरा प्रखंड के रामनगर में होनी है जिसमें राज्य सचिव डा० रामाधार सिंह भाग लेंगे।

Leave a Reply