वाहन से कुचलकर बच्चे की हुई मौत

रोते बिलखते मृतक शशीकांत के परिजन

ग़ुलाम रहबर व संतोष अमन की रिपोर्ट:-

एन० एच० 98 स्थित दाउदनगर-औरंगाबाद पथ पर तरारी मोड़ के पास वाहन से कुचलकर दस वर्षीय बालक शशीकांत कुमार की मौत हो गयी। बताया जाता है कि वह मंगलवार की दोपहर में सड़क पार कर रहा था और उसी दौरान औरंगाबाद से दाउदनगर की ओर तेज गति से आ रही स्वीफ्ट डीजायर गाड़ी नं०- बी० आर० 02आर०-5440 ने उसे धक्का मार दिया और शशीकांत गंभीर रुप से जख्मी हो गया। उसे इलाज के लिए एक निजी अस्पताल में लाया गया, जहां के चिकित्सक ने स्थिति गंभीर बताते हुए पटना रेफर कर दिया। पटना ले जाने के क्रम में रास्ते में ही उसकी मौत हो गयी। रात में ही उसके शव को दाउदनगर थाना लाया गया, बुधवार की सुबह पुलिस ने मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल औरंगाबाद भेज दिया। इधर, दुर्घटना के तत्काल बाद ग्रामीणों ने वाहन और उसके चालक मुफस्सिल थाना के मंजराही निवासी ध्रुप राम को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। घटना के संबंध में मृतक के चाचा चद्रभूषण पासवान द्वारा एक प्राथमीकी दर्ज करायी गयी है। अभय कुमार सिंह ने बताया कि जमानतीय धारा में केस होने के कारण चालक को थाना से ही बेल दे दिया गया है। सीओ विनोद सिंह ने रात में ही थाना पहुंचकर मृतक के परिजनों को पारीवारिक लाभ के तहत बीस हजार रुपये की राशि प्रदान किया। तरारी पंचायत के मुखिया संगीता देवी के प्रतिनिधि राकेश कुमार ठाकुर ने कहा कि कबीर अंत्येष्टी योजना के तहत तीन हजार रुपये प्रदान किया जाएगा।

इसी वाहन से कुचलकर बच्चे की हुई मौत

ननिहाल में आया था शशीकांत-मृतक शशीकांत कुमार ओबरा प्रखंड के बिहारी बिगहा निवासी शंभुशरण पासवान का पुत्र है। वह बेलाढ़ी गांव निवासी अपने मामा कामेश्वर पासवान के घर चार दिन पहले अपनी मां के साथ शादी में भाग लेने आया था। परिजनों ने बताया कि वह खेलते खेलते तरारी के पास आ गया और जब एन एच 98 पार करना चाहा तो तेजी से आ रही अनियंत्रित कार ने उसे कुचल दिया। उसकी मां एवं अन्य परिजनों का रोते रोते बुरा हाल था। लोग पहुंचकर ढाढ़स बंधाते हुए सांतवना देने का प्रयास कर रहे थे।
जतायी शोक संवेदना-कई जनप्रतिनिधियों ने पहुंचकर मृतक के परिजनों को ढाढ़स बंधाते हुए संवेदना जतायी। प्रखंड प्रमुख अनील कुमार, मुखिया प्रतिनिधि राकेश कुमार ठाकुर, पंसस नंदेश कुमार शर्मा, उप-सरपंच लक्षमण पासवान, पूर्व मुखिया राधेश्याम सिंह आदि ने पहुंचकर घटना पर शोक जताते हुए शोक संतप्त परिवार को ढाढ़स बंधाया।

Leave a Reply