भाकपा माले ने ग़रीबो को जमीन देने के लिए उठाई आवाज

धरना को संबोधित करते पूर्व मुख्य पार्षद धर्मेन्द्र कुमार एवं उपस्थित भाकपा माले नेता

 संतोष अमन की रिपोर्ट:-

भाकपा माले द्वारा चलाये जा रहे भूमि अधिकार सत्याग्रह कार्यक्रम के तहत प्रखंड सह अंचल कार्यालय पर एक दिवसीय उपवास कार्यक्रम आयोजित किया गया। भाकपा माले नेता रामनाथ ठाकुर, किसान महासभा के द्वारिक पासवान, सुरेश राम, सहोदर कुंवर एवं कलावती कुंवर ने उपवास रखा।  अध्यक्षता प्रखंड सचिव मदन प्रजापति ने की। मुख्या वक्ता के रूप में बोलते हुये जिला सचिव जनार्दन प्रसाद सिंह, राजकुमार भगत, नगर सचिव बिरजू चौधरी, पूर्व मुख्य पार्षद धर्मेन्द्र कुमार, सिद्धेश्वर यादव, लालन यादव ने कहा कि गरीबों को पांच पांच डिसमिल जमीन उपलब्ध कराने के बदले सरकार नौटंकी कर रही है। महात्मा गांधी के ऐतिहासिक चंपारण सत्याग्रह शताब्दी वर्ष पर अरबों रुपये खर्च कर महात्मा गांधी व चंपारण संघर्ष को याद करने व बिहार को गौरव व सम्मान देने का ढोंग कर रहे हैं। मोदी व नीतीश के राज में निलहों के जगह मिलहों ने ले लिया है। वे किसानों व मजदूरों का शोधण कर रहे हैं। किसानों से बहुफसली जमीन छिना जा रहा है। मजदूरों भूमिहीनों को उनकी पुस्तैनी कब्जे की जमीन से बेकब्जा किया जा रहा है। अपनी नौ सूत्री मांगों से संबंधित ज्ञापन अंचल अधिकारी को नेताओं ने दिया। ज्ञापन में कहा गया है कि गरीब भूमिहीन आवास विहीन को पांच पांच डीस्मिल जमीन देने का सरकार ने वादा किया था। आज तक इस पर अमल नहीं हुआ। ज्ञापन में सभी परचाधारियों को बेनामी, भूदानी , सिलिंग से फालतु जमीन पर कब्जा कराने, बेहतर शिक्षा व रोजगार की गारंटी देने, सामान शिक्षा प्रणाली एवं समान काम के लिए समान वेतन प्रणाली लागू करने समेत अन्य मांगे की गई है।

Leave a Reply