एटीएम बना सिर्फ शोभा की वस्तु ,एटीएम में नहीं है पैसा


शादी विवाह के समय यदि आपने अपने पास नगद पैसा नहीं रखा है तो परेशानी में पड़ सकते हैं।लगन का समय चल रहा है।बाजार में भीड़ भाड़ व चहल पहल बढ़ी हुई है। आवश्यक सामानों की खरीददारी की जा रही है और यदि इसमें पैसे घट जाए तो उनके पास वापस घर जाकर पुनः वापस आना ही एक विकल्प है वह भी तब जब घर में पैसे रखे हुए हों।यह स्थिति गुरुवार को भी दीखी।दाउदनगर में एटीएम बंद रहे।लोग एक एटीएम से दूसरे एटीएम की दौड़ लगाते रहे।पता चला कि एटीएम में पैसा ही नहीं है।एसबीआई का इ-कार्नर भी बंद दीखा।यह कहना गलत नहीं होगा कि एटीएम कार्ड बैंक खाते में पैसा रहते शोभा की वस्तु बनकर रह गया है। अनुमंडल मुख्यालय में एटीएम बंद रहने से ग्राहक परेशान हैं।  लगभग सभी राष्ट्रीयकृत बैंकों के मिलाकर एक दर्जन एटीएम हैं लेकिन सभी के शटर गिरे हुये हैं। शादी-विवाह एवं लगन के मौसम में खरीदारी करने आये ग्राहक एटीएम की चक्कर लगा रहे हैं और कोसते हुये वापस लौट रहे हैं।  एसबीआई के भखरूआं मोड पर दो, बैंक परिसर में दो, मौलाबाग दो तथा पीएनबी के भखरूआं मोड दो, मगध होटल के पास एक, बैंक आॅफ बडौदा के पेट्रोल पंप पर एक, लखन मोड के पास एक, नगरपालिका रोड के पास एक तथा एक्सिस बैंक के एक एटीएम है। एटीएम के पास तैनात गार्डो का कहना है एटीएम में पैसा नहीं है। उपभोक्ताओं के पौकेट में रखे गये एटीएम बेकार की वस्तु बनी है। एटीएम लेकर बाजार आये ग्राहक पैसे के अभाव में दूसरे से पैसा लेकर अपना काम चला रहे हैं। लोगों का कहना है नोटबंदी के बाद से एटीएम की स्थिति बिगडी है। किसी भी एटीएम में एक से दो दिन तक पैसा नहीं चलता है।उपभोक्ताओं का कहना है कि यदि एटीएम खुला भी रहता है तो उसमें पैसा नहीं रहता है।ऐसी स्थिति में एटीएम सिर्फ शोभा की वस्तु बनकर रह गया है।यही नहीं बल्कि
बैंक खाते से भी इच्छानुसार पैसे नहीं मिल रहे हैं।आवश्यकता से काफी कम राशि मिल रही है।एकाध बैंको में तो जाने पर राशि नहीं रहने की बात बता दी जा रही है।ऐसी स्थिति में शादी विवाह वाले घरों के लोग तो और अधिक परेशानी में हैं।कुछ ऐसी जरुरतें भी हैं जिसके लिए नगद पैसा जरुरी है।घर में पैसा नहीं होने पर किसी दूसरे से लेकर काम चलाना पड़ रहा है।एक बैंक प्रबंधक ने पूछने पर बताया कि करीब एक महीने से मांग के अनुरुप कैश आ नहीं रहा है।यदि थोड़ा बहुत आ भी रहा है तो छोटे नोट(50,20या10का नोट)आ रहे हैं,जिन्हें एटीएम में डाला नहीं जा सकता।बड़े नोट आ नहीं रहे हैं,जिसके कारण एटीएम बंद रखना पड़ रहा है।

Leave a Reply