जो मनुष्य दूसरों को हीन दृष्टि से देखता है वह कभी भी शांत व सुखी नहीं रह सकता।

 अंगराही गांव में प्रवचन करते स्वामी पुरूषोतमाचार्यजी महाराज) 
 दाउदनगर प्रखंड के अंगराही गांव में आयोजित श्री लक्ष्मीनारायण सप्ताह महायज्ञ एवं भगवान शंकर की प्राण प्रतिष्ठा महायज्ञ में श्रद्धालुओं की काफी भीड उमड़ रही है। यह महायज्ञ स्वामी पुरूषोतमाचार्यजी महाराज के तत्वाधान में कराया जा रहा है। यज्ञ मंडप की फेरी लगाने एवं पूजा अर्चना करने के लिए  काफी संख्या में महिला-पुरूष श्रद्धालुओं की भीड़ उमड रही है। रामलीला, रासलीला समेत अन्य कार्यक्रम आयोजित हो रहे हैं। सोमवार को प्रवचन करते हुये स्वामी जी ने श्रीकृष्णावतार पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि सभी जीवों में मनुष्य सर्वश्रेष्ठ है। जो मनुष्य दूसरों को हीन दृष्टि से देखता है वह कभी भी शांत व सुखी नहीं रह सकता। दूसरों का भला करने वाला व्यक्ति बुरी स्थिति में भी शांत रहता है और उसका संकट टल जाता है। चित्रकुट से आयी प्रवचनकर्ता उषा रामायणी द्वारा भी प्रवचन किया जा रहा है। आयोजकों में शामिल सिंदुआर पंचायत के मुखिया पिंटू शर्मा, यज्ञ समिति के अध्यक्ष उमेश्वर शर्मा, सचिव रामनाथ सिंह, नंदकिशोर शर्मा, अजय कुमार शर्मा, धनंजय शर्मा आदि ने बताया कि 3 मई बुधवार को पूर्णाहूति होगी। प्रसाद वितरण किया जाएगा।

Leave a Reply