बिजली की किल्लत से उपभोक्ताओं की बढ़ी परेशानी

संतोष अमन की रिपोर्ट:-

गर्मी आते ही बिजली की किल्लत होनी शुरू हो गई है। खासकर शाम चार बजे के बाद से लेकर देर रात तक बिजली की स्थिति काफी गड़बड़ रह रही है। पुराना शहर गुलाम सेठ चौक स्थित ट्रांसफाॅर्मर से जुड़े उपभोक्ता तो और परेशान हैं। रात होते ही इस इलाके की बिजली गुल हो जा रही है। कई घंटे के बाद फिर से बिजली के दर्शन हो रहे हैं। यही स्थिति सोमवार की रात भी देखने को मिली। रात्रि करीब सवा दस बजे अचानक बिजली कट गई जबकि पूरे बाजार में बिजली आपूर्ति हो रही थी। आधे घंटे बाद जब बिजली आई तो एक फेज का गायब था। इससे उपभोक्ताओं को काफी परेशानी झेलनी पड़ रही है। दिन में तो बिजली आपूर्ति की हालत सही रह रही है लेकिन चार बजते ही बिजली आपूर्ति की स्थिति अनियमित सी हो जा रही है। अचानक बिजली कटना और काफी देर तक कटे रहना एक आम बात सी हो गई है। इससे उपभोक्ताओं की रोजमर्रा की जरूरतों पर प्रभाव पड़ रहा है। रात में विद्यार्थियों को पठन-पाठन में परेशानी हो रही है। इस संबंध में जब सहायक विद्युत अभियंता प्रीतम कुमार से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि पीक आवर में दाउदनगर व ओबरा को मिलाकर मात्र 6 से 7 मेगावाट बिजली ही मिल रही है जबकि आवश्यकता 15 से 16 मेगावाट की है। मिल रही बिजली से ही दाउदनगर के पांच व ओबरा के चार फीडरों में रोटेशन के अनुसार बिजली आपूर्ति की जा रही है।

Leave a Reply