मच्छरजनित बीमारियों की पहचान करें आशा 

 आशा स्वास्थ्य कार्यकर्ता एवं एएनएम अपने-अपने क्षेत्रों से मच्छरजनित ए0इ0एस0 बीमारियों से प्रभावित संभावित रोगियों की खोज व पहचान करें और इसकी सूचना यथा शीघ्र अपने निकटतम प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को दें जिससे रोगी की समय पर जान बचायी जा सके। उक्त बातें पाथ के प्रखंड माॅनिटर अरविंद कुमार सिंहा ने ओबरा पीएचसी में एएनएम व आशा स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को ए0इ0एस0 व जे0इ0 का प्रशिक्षण देते हुये कही। उन्होंने कहा कि मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया व मस्तिष्क ज्वर जैसी दर्जनों बीमारियां ए0इ0एस0 श्रेणी की बीमारियां हैं जो मादा मच्छर के काटने से होती है। उक्त बीमारियों में सबसे अधिक खतरनाक मस्तिष्क ज्वर है जो मादा क्यूलेक्स मच्छर के कारण होती है। इन बीमारियों से बचाव के लिए अपने-अपने घरों व उसके आसपास की साफ-सफाई, नली-नालों की साफ-सफाई बहुत ही जरूरी है। बैठक में बीसीएम प्रदीप कुमार भी उपस्थित थे।

Leave a Reply