होमियोपैथ से बढता जा रहा लोगों का जुडाव

– होमियोपैथिक के जनक एवं महान वैज्ञानिक डा0 क्रिश्चिन फेडरिक सैमुअल हैनीमैन की 262 वीं जयंती क्लिनिक लाईफलाइन में डा0 मनोज कुमार के नेतृत्व में धूमधाम से मनायी गयी। डा0 हैनीमैन को याद किया गया। डा0 मनोज ने कहा कि वर्तमान परिवेश में होमियोपैथिक से लोगों का जुडाव बढता जा रहा है। माॅडर्न होमियोपैथी चिकित्सा की पद्धति रिवोल्यूशनाइड पद्धति पर आधारित है। यह ट्रिपल पी के फार्मूले पर कार्य कर रोगों को जडमुक्त करती है। डा0 अरविंद चैरसिया ने कहा कि डा0 हैनीमैन ने होमियोपैथिक के रूप में दुनिया को नया वरदान दिया था। पटना से आये होमियोपैथ चिकित्सक डा0 पी0आर0 राजवंशी, डा0 कामेश्वर प्रसाद, डा0 उमालाल प्रसाद, डा0 संजय कुमार, डा0 बी0एम0 दास, डा0 पल्लवी, डा0 एन0 के0 विद्यार्थी, गया के डा0 चंद्रकांत सिंह, दाउदनगर के डा0 कमलेश सिंह, डा0 विनय कुमार, आरा के डा0 मो0 एकबाल ने भी अपने विचार व्यक्त किये। पटना में डा0 हैनीमैन की याद में भव्य होमियोपैथिक अस्पताल की स्थापना करने का निर्णय लिया गया जहां असाध्य एवं जटिल रोगों का ईलाज सस्ते दर में किया जाएगा।

Leave a Reply