भगत सिंह के विचारों को जन-जन तक पहुंचाना सच्ची श्रद्धांजली

शहीद परिचर्चा में उपस्थित लोग

संतोष अमन की रिपोर्ट:-

शहीद भगत सिंह के विचारों को जन-जन तक पहुंचाना ही उनके और तमाम शहीदों के शहादत के प्रति सच्ची श्रद्धांजली होगी। उक्त बातें शहीद-ए-आजम भगत सिंह सामाजिक विकास संस्थान के संयुक्त सचिव प्रो० राजकमल कुमार सिंह ने शहादत पखवारा के तहत चलाये जा रहे शहीद चर्चा में कही। मल्लाह टोली गंज पर आयोजित शहीद चर्चा में सचिव सत्येंद्र कुमार ने कहा कि शहीद-ए-आजम भगत सिंह और उनके साथियों की फांसी भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन का वह अहम मोड़ साबित हुआ जहां से भारत के अंदर अंग्रेजी साम्राज्य की उल्टी गिनती शुरू हो गई थी। संस्थान के अध्यक्ष कृष्णा प्रसाद चंद्रवंशी, पूर्व मुख्य पार्षद धर्मेन्द्र कुमार, भाकपा माले के टाउन सचिव बिरजु चैधरी आदि वक्ताओं ने भखरूआं चौक का नामकरण शहीद जगतपति चौक करने, दाउदनगर नासरीगंज सोननदी पर निर्माणाधीन पुल का नामकरण शहीद भगत सिंह सेतु करने एवं 23 मार्च को शहीद दिवस घोषित करते हुये सरकारी छुटटी घोषित करने की मांग की। सभा की अध्यक्षता महेंद्र राम ने की। इससे पहले वार्ड संख्या-10 स्थित सुषमा सिंहा के आवास पर भी शहीद चर्चा का आयोजन अरविंदो मिशन स्कूल के प्राचार्य सुषमा सिंहा की अध्यक्षता में किया गया।

Leave a Reply