आंगनबाडी कर्मचारी को सरकारी कर्मचारी का दर्जा दे सरकार

सीडीपीओ कार्यालय के समक्ष धरना पर बैठी आंगनबाडी सेविकाएं व सहायिकाएं

संतोष अमन की रिपोर्ट:

आंगनबाडी कर्मचारी यूनियन के राज्य व्यापी अनिश्चितकालीन हड़ताल के कारण सभी आंगनबाड़ी केंद्रों में ताले लटके हुये हैं। आंगनबाडी सेविकाएं एवं सहायिकाएं सीडीपीओ कार्यालय के समक्ष पहुंचकर धरना पर बैठ जा रही हैं। मंगलवार को भी प्रखंड अध्यक्ष इंदु देवी व सचिव रीना देवी के नेतृत्व में धरना दिया गया। इसके बाद सीडीपीओ को आठ सूत्री मांगों से संबंधित ज्ञापन सौंपा गया। ज्ञापन में गोवा एवं तेलांगना की भांति सेविका को सात हजार व सहायिका को 45 सौ रूपया अतिरिक्त मानदेय देने, सेवाकाल में मृत्यू होने पर अनुकंपा के आधार पर नौकरी देने, सरकारी कर्मचारी का दर्जा देने एवं दर्जा नहीं मिलने तक सेविका को 15 हजार व सहायिका को 10 हजार रूपया मानदेय देने समेत अन्य मांगे की गई हैं। धरना को संबोधित करते हुये चंचला देवी, निर्मला देवी, चंद्रकांती देवी, रेणु देवी समेत अन्य वक्ताओं ने कहा कि सरकार लगातार हमारी उपेक्षा कर रही है।

Leave a Reply