शहादत पखवाड़ा के तहत हुई शहीद-चर्चा

      शहीद-ए-आज़म भगत सिंह, राजगुरु एवं सुखदेव के शहादत पखवाड़ा के तहत महात्मा फूले नगर (माली टोला) वार्ड संख्या पाँच में शुक्रवार की संध्या सात बजे से शहीद-ए-आज़म भगत सिंह सामाजिक विकास संस्थान के सचिव सह शिक्षक सत्येन्द्र कुमार के आवास पर शहीद चर्चा संपन्न की गई, जिसमें स्थानीय नागरिकों ने भाग लिया। उपस्थित जन समूह को संबोधित करते हुए श्री कुमार ने कहा कि भगत सिंह स्वतंत्रता आंदोलन के संघर्ष क्षितिज पर चमकता हुआ वह सितारा है, जो बिल्कुल बेदाग है। यही कारण है कि आज भी भगत सिंह भारतीय आदर्शवादी युवाओं के हीरो है।
      चर्चा को संबोधित करते हुए संस्था के संयुक्त सचिव प्रो. राजकमल कुमार सिंह उर्फ सुदामा सिंह ने कहा कि भगत सिंह ही वह शहीद है, जो महज 23 वर्ष की उम्र में ही जबर्दस्त अध्ययन की बदौलत वह वैचारिक ऊँचाई हासिल कर ली थी। कहा कि देश को साम्प्रदायवाद, जातिवाद, क्षेत्रवाद, भाषावाद से मुक्ति पाना है, तो भगत सिंह के बताये रास्ते पर पूरे देश को चलना होगा। इनके अलावे सभा को बीरजू चौधरी, अध्यक्ष कृष्णा प्रसाद चंद्रवंशी, शिक्षक विनोद भगत, पूर्व चेयरमैन धर्मेन्द्र कुमार, रामसकल महतो, शिक्षक सुरेन्द्र सिंह, संस्था के अन्य सदस्यों व स्थानीय नागरिकों ने भी संबोधित किया। सभा की अध्यक्षता स्थानीय नागरिक श्री मुखदेव भगत तथा संचालन मो.कय्यूम अंसारी ने की। धन्यवाद ज्ञापन वयोवृद्ध सेवानिवृत सिंचाई विभाग के कर्मी वृंदाकर भगत ने किया। जानकारी देते हुए बताया कि शनिवार को दबगर टोली, वार्ड संख्या पांच में धर्मेन्द्र कुमार के आवास पर शाम सात बजे से शहीद चर्चा होगी।

Leave a Reply