नगर परिषद का दर्जा मिलने से होगा विकास

उच्च न्यायालय द्वारा नगर पंचायत दाउदनगर में नगर परिषद का नगर निकाय चुनाव कराने संबंधित आदेश दिये जाने की जानकारी जैसे ही स्थानीय लोगों को मिली, तो लोगों में हर्ष की लहर दौड़ पड़ी। लोगों का कहना है कि अब दाउदनगर शहर का चहुंमूखी विकास होगा। गौरतलब हो कि वार्ड संख्या-02 के वार्ड पार्षद एवं विधानसभा चुनाव में ओबरा विधानसभा क्षेत्र से बसपा प्रत्याशी रहे रामऔतार चौधरी ने पटना उच्च न्यायालय में वाद सीडब्लूजेसी 3047/2017 दायर किया था। श्री चौधरी ने बताया कि इस बिंदु पर राज्य सरकार को अपना पक्ष न्यायालय में रखना था। श्री चौधरी ने तर्क देते हुये कहा था कि दाउदनगर नगर पंचायत क्षेत्र की जनसंख्या 52340 है। गैर कृषि कार्य में शत प्रतिशत लोग ने राष्ट्रीयकृत बैंक, डिग्री काॅलेज, इंटर काॅलेज, डाकघर समेत अन्य कार्यालय हैं। नगर पंचायत दाउदनगर नगर परिषद बनने के सारे मापदंडों को पुरा करता है। श्री चौधरी ने बताया कि न्यायालय के फैसले के अनुसार नगर निकाय का चुनाव जब भी होगा तो दाउदनगर में नगर परिषद का होगा। श्री चौधरी के अधिवक्ता रविरंजन कुमार पांडेय ने उनका पक्ष न्यायालय में रखा।

Leave a Reply