जल जमाव की समस्या से मुक्ति के लिए नालियों की मापी का कार्य हुआ शुरू

मापी कार्य शुरू कराते मुख्य पार्षद परमानंद प्रसाद

संतोष अमन की रिपोर्ट:

दाउदनगर शहर में जल जमाव की समस्या से मुक्ति के लिए नालियों की मापी का काम शनिवार को शुरू हो गया। मापने वाले यंत्र के साथ मुख्य पार्षद परमानंद प्रसाद, कनीय अभियंता परमेश्वर पासवान एवं अमीन अनवर फहीम ने जगन मोड़ से नालियों के मापने का कार्य शुरू किया। जेई ने कहा कि एक सप्ताह में प्राकलन बना दिया जाएगा। मुख्य पार्षद ने कहा कि पैसे की कमी सरकार नहीं होने देगी। 22 अगस्त 2016 को सशक्त स्थाई समिति की बैठक में नौ बड़े नाले बनाने का निर्णय लिया गया था। इनमें सुरती के पुल से लखन मोड़ होते हुये पचकठवां देवी मन्दिर तक, ब्लाॅक मोड मौलाबाग से पचकठवा देवी मंदिर होते बारूण रोड पार करते सोनतटीय क्षेत्र तक, गोला रोड से पिराहीबाग होते बारूण रोड पारकर इमामबाड़ा रोड होते सोन की तराई तक, कादरी स्कूल मोड़ से बारूण रोड चर्च होते पासवान चौक नाला, बारूण रोड कृष्णा यादव के घर से पिराही बाग होते नीलकोठी तक, किला रोड से बालूगंज होते सोन की तराई तक, छत्तर दरवाजा बारूण रोड पूर्वी छोर से पासवान चौक तक, माली टोला कुंआ से बारादरी चौक होते किला तक और जितबहन गोसाई चौक पुराना शहर चौक से तकेया मुहल्ला होते काली स्थान तक नाला बनेगा। मुख्य पार्षद ने बताया कि नगर विकास आवास विभाग की पटना में आयोजित बैठक में उन्होंने सवाल उठाया था कि नाली गली पक्की सड़क निश्चय योजना के तहत नालियां तो बनाई जा रही है लेकिन पानी की निकासी की कोई व्यवस्था नगर निकायों के पास नहीं है। इसके बाद मंत्री एवं प्रधान सचिव ने विचार किये जाने का आश्वासन दिया था। मुख्य पार्षद ने सरकार के प्रति आभार जताते हुये कहा कि अब राज्य के निकायों को इसके लिए फंड दिया जा रहा है।

Leave a Reply