पढते समय पढिये और सोते समय सोइये।


 पढते समय पढिये और सोते समय सोइये। गहरी नींद आवश्यक है। इसमें मिलावट न करिये। उक्त बातें नवरतनचक स्थित संस्कार विद्या परिसर में बच्चों को योग की शिक्षा देते हुये रांची में भारतीय स्टेट बैंक की शाखा में कार्यरत खजांची व योग विशेषज्ञ विभूति भूषण राय ने कहा। उन्होंने कहा कि हाथ व चेहरा धोकर कंघी करके तब पढने बैठिये। सीधे बैठकर पढना चाहिए, बिस्तर पर लेटकर नहीं। रीढ की हड्डी के स्वास्थ्य के लिए ऐसा आवश्यक है। पढते समय मोबाईल साईलेंट मोड में रखे। एकाग्रचित होकर अपनी पढाई करें। इन्होंने शुभकामना देते हुये कहा कि यह स्कूल बिहार का प्रतिनिधित्व करे। ताकि योगा के क्षेत्र में यह बेहतर नाम कर सके। संस्था के सीएमडी सुरेश कुमार गुप्ता ने कहा कि योग से शक्ति व स्फूर्ति प्राप्त होती है। आलस्य दूर होता है। सीईओ आनंद प्रकाश ने कहा कि बच्चों को अच्छी जानकारी प्राप्त हुई है। इससे उनका आत्मबल बढेगा। परीक्षा की अच्छी तैयारी होगी। इस मौके पर डिप्टी सीईओ विद्यासागर, कर्मवीर भारती, फिल्म निर्देशक व रंगकर्मी धर्मवीर भारती प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

Leave a Reply