लाईलाज व जानलेवा वीमारी है मस्तिष्क ज्वर

…………………………..
क्यूलेक्स नामक मादा मच्छर के काटने से मस्तिष्क ज्वर{Mastishk jwar } नामक लाईलाज व जानलेवा वीमारी होती है । इसे दिमागी बुखार के नाम से भी जाना जाता है ।यह बीमारी हर साल अप्रैल से दिसम्बर माह के बीच एक से पन्द्रह साल के बच्चों को होती है ।

      उपरोक्त बातें अंतर्राष्टीय गैर सरकारी संगठन पाथ के प्रखंड मोनिटर अरविन्द कुमार सिन्हा ने हसपुरा प्रखंड के अहियापुर गॉव में आंगनवाडी केन्द्र संख्या 32 पर आयोजित सामुदायिक बैठक में कही ।

           बैठक में श्रीसिन्हा ने कहा कि उपरोक्त बीमारी में तेज बुखार  के साथ उल्टी ,कँपकँपी,बेहोशी,कमजोरी व सुस्ती होती है,बच्चा नींद में बडबडाता है,मुँह से झाग आता है एवं उसे दॉत पे दँ।त लगता है ।

ऐसी स्थिति में प्राथमिक उपचार के तौर पर उसे ढंडे पानी की पट्टी देना चाहिए और उसे अति शीध्र निकटतम सरकारी अस्पताल भेजना चाहिए ।

        बैठक में श्रीसिन्हा ने बताया कि उपरोक्त वीमारी से बचाव के लिए प्रत्येक ब्यक्ति को अपने अपने घरों व उसके आसपास के ईलाकों सहित नाली नालों की साफ सफाइ करनी चाहिए ।रात में सोते समय मच्छरदानी का प्रयोग करना चाहिए ।    बैठक में सेविका ऊषा कुमारी ,ईन्दु कुमारी,बिन्दु कुमारी,मघु कुमारी, नगिया देवी,मालती देवी सहित दर्जनों लोग मौजूद थे ।

Leave a Reply