जाप ने किया एक दिवसीय धरना प्रदर्शन

संतोष अमन की रिपोर्ट:

जन अधिकार पार्टी के संरक्षक राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव के अह्वान पर औरंगाबाद जिला मुख्यालय में पार्टी द्वारा एकदिवसीय धरना दिया गया। धरना की अध्यक्षता युवा शक्ति प्रदेश महासचिव संजय यादव ने किया। जानकारी के अनुसार, धरना का उद्देश्य पूर्व उद्घोषीत बेनामी संपत्ति एंव शिक्षा व्यवस्था को लेकर आंदोलन तेज करना है।

युवा शक्ति जिलाध्यक्ष अभिजित कुमार टोनी ने कहां कि केन्द्र सरकार और राज्य सरकार सिर्फ अपनी परिवारिक विकास में व्यस्त है। इन्हें जनता की नैतिक विकास की चिंता नहीं है। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी ‘मन की बात’ कार्यक्रम में बेनामी संपत्ति रखने वालों के विरुद्ध कार्रवाई एवं सख़्त कानून लाने की बात बोला करते थे। अब लोगों को मालूम चल चुका है कि वो एक मात्र पूर्व की तरह जुमला था। प्रधानमंत्री अपना सारा कार्य छोड़ प्रचार मंत्री बने हुए है। और बिहार का विकास शराबंदी के आड़ में गुमनाम हो गया है यानि बिहार सरकार के नजर में सब कुछ शराबंदी है। तत्कालीन मुद्दा बी.एस.एस.सी. परिक्षा पेपर लीक में जो अफरा-तफरी एवं धांधली हुई है, उसकी सीबीआई जांच जल्द से जल्द किया जाए और इससे जुड़े लोग मंत्री, विधायक एवं पदाधिकारियों का नाम उजागर किया जाए और सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए।

पार्टी प्रभारी सुरेंद्र सिंह ने कहा कि बेनामी संपत्ति‍ के बारे में कुछ लोग यह सोचते हैं कि वह संपत्ति जो बिना नाम की होती है लेकिन यह सच नहीं है। संपत्ति का रकम चुकाने वाला व्यक्ति दूसरे व्यक्ति के नाम से संपत्ति का पेपर बनवाते हैं या उसके दूसरे व्यक्ति के नाम से संपत्ति खरीदते हैं। यह दूसरा व्यक्ति उसकी पत्नी, पुत्र-पुत्री, भाई-बहन या अन्य रिश्तेदारों या सहयोगी हो सकता है। ज्वाइंट संपत्ति भी बेनामी संपत्ति के अंतर्गत आता है।

इस मौके पर छात्र जिलाध्यक्ष विजेन्द्र कुमार यादव, छात्र प्रदेश महासचिव विजय कुमार उर्फ गोलू यादव, ज़िला प्रभारी अनिल यादव, कार्यालय सचिव रामजन्म यादव, नगर अध्यक्ष भास्कर पाण्डेय, सरोज यादव, अरविंद भगत, लल्लू सिंह, राम पुकार गुप्ता, माथुर सिंह भोक्ता, सच्चिदानंद कुमार सिंह, संतोष कुमार, सूर्य देव सिंह, राजदेव यादव, शशि कुमार सिंह अशोक कुमार, संतोष कुमार यादव, पप्पू कुमार आदि उपस्थित थें।

Leave a Reply