प्रदुषण से पर्यावरण व धरती को बचायें : डॉ. प्रकाश चन्द्रा

नुक्कड नाटक के माध्यम से जागरूक करते कलाकार

संतोष अमन की रिपोर्ट:

उर्मिला गैस एजेंसी दाउदनगर द्वारा नुक्कड नाटक के माध्यम से गैस की बचत एवं गैस के सुरक्षित प्रयोग का तरीका बताया गया। उपस्थित लोगों से गैस एवं प्राकृतिक उर्जा, प्राकृतिक संसाधनों एवं पर्यावरण संरक्षण का अनुरोध पटना से आयी प्रयास संस्था की टीम द्वारा की गई।

संचालक डा. प्रकाश चंद्रा ने कहा कि प्राकृतिक संसाधन एवं प्राकृतिक गैस सीमीत मात्रा में हैं। अतः हमें चाहिए कि इसका इस्तेमाल सावधानीपूर्वक करें। गैस एवं प्राकृतिक इंधनों की बचत करें ताकि अपने आने वाली पीढी के लिए भी हम उर्जा के स्रोत छोड़कर जायें तथा प्रदुषण से अपने पर्यावरण एवं अपनी धरती को बचायें। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि लोगों को गैस का इस्तेमाल सावधानीपूर्वक करना चाहिए तथा दुर्घटनाओं से बचना चाहिए। गैस लिकेज होने पर विद्युत उपकरण लाईट के स्विच को आॅन आॅफ नहीं करना चाहिए। खिड़कियों एवं दरवाजों को खुला छोड़कर घर के बाहर निकल जाना चाहिए और तत्काल इसकी सूचना फायर बिग्रेड को देना चाहिए। उन्होंने स्थानीय एवं पंचायती राज जनप्रतिनिधियों से आग्रह किया कि वे अपने-अपने घरों एवं मुहल्लो में अग्निशमन यंत्र रखवायें ताकि दुर्घटना की सूचना पर तत्काल राहत पहुंचायी जा सके।

Leave a Reply