स्वतंत्रता संग्राम के महानायक थे नेताजी

नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की जयन्ती के मौके पर सोमवार को हनुमान मंदिर के पास स्थित अभाविप कार्यालय में कार्यकर्ताओं ने उनके चित्र पर मार्ल्यापण व पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी और गोष्ठी आयोजित की, जिसका नेतृत्व कॉलेज अध्यक्ष आर्य अमर केशरी ने किया।

श्री केशरी ने कहा कि भारतीयों की पीढ़ियां उन्हें उनकी बहादुरी और देशभक्ति के लिए याद करती हैं। उनकी बहादुरी और देशभक्ति के कारण वे विभिन्न पीढ़ियों के भारतीयों के अजीज हैं। वह भारत के स्वतंत्रता संग्राम के महानतम नायकों में से एक हैं। उन्होंने अपने पराक्रम, साहस और देशभक्ति से असंख्य युवाओं को प्रेरित किया। आज सेना और पुलिस में जय हिंद कहकर अभिवादन किया जाता है। ये नारा सुभाष चंद्र बोस ने ही दिया था। इसके अलावा उनके द्वारा दिया गया एक और नारा बहुत प्रसिद्ध हुआ था- तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आजादी दूंगा। 

मिडिया प्रभारी सौरभ राजपूत ने कहा कि सुभाष चन्द्र बोस ने देश को आज़ादी दिलाने के लिए लोगो में देश भक्ति की आग जलाई थी। एक बड़ी लड़ाई के लिए वह लोगो को तैयार रहने के लिए बोल रहे थे। इस मौके पर नगर सह मंत्री संतोष अमन, कॉलेज उपाध्यक्ष सचिन भारती, धिरज कुमार, कार्यलय मंत्री रौशन गुप्ता, नगर कार्यसमिति सदस्य सोनू पाण्डेय, बजरंग दल हसपुरा प्रखंड संयोजक अभिनाश कुमार, स्वामी विवेकानंद युवा राष्ट्रीय युवा मंच के संयोजक अनुज रामचंद्र पाण्डेय, दीपक मिश्रा सुमन पटेल, अनिल कुमार सहित अन्य लोग मौजूद थे ।

Leave a Reply